Ultimate magazine theme for WordPress.
Medha Milk

आप में सही बात करने वालों की जगह नहीं: अलका लांबा

0
  1. केजरीवाल ने एमएलए से कहा, वे हार के लिए दिल्लीवालों से माफी मांगें
  2. अलका का आरोप, पार्टी के भीतर ऐसे लोग हैं, जो पार्टी छोड़ने का माहौल बनाते हैं

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (आप) की एमएलए अलका लांबा ने चुनाव में जबरदस्त हार के बाद फिर से पार्टी नेतृत्व और आप के सर्वेसर्वा अरविंद केजरीवाल आरोप लगाया है और कहा कि केजरीवाल हार की कमियों पर आपस में बैठकर चर्चा करने को तैयार नहीं हैं। एक वीडियो मैसेज में अलका ने आरोप लगाया कि बजाय इसके केजरीवाल ने सभी एमएलए से कहा है कि वह दिल्लीवालों से माफी मांगें।

अलका लांबा से इसका कारण पूछने पर ज्यादातर एमएलए को अपने व्हॉट्सएप ग्रुप से ही बाहर कर दिया गया। इस आरोप पर पार्टी के कोई सीधा जवाब नहीं दिया। अलका लांबा ने दावे से कहा कि शनिवार 25 मई को केजरीवाल ने एमएलए के व्हॉट्सएप ग्रुप पर मैसेज डाला कि अब हार के बाद हम सभी को दिल्लीवालों के बीच जाकर माफी मांगनी ही चाहिए। साथ ही, इस दौरान जो भी कुछ बातें हों, उस पर कुछ कहने की जगह लोगों से एक मौका देने की अपील भी करनी चाहिए। अलका लांबा यहीं नहीं रुकीं, बल्कि उन्होंने कहा कि इस पर जब खुद उन्होंने सवाल किया कि गलती कहां हुई, इसे लेकर चर्चा होनी चाहिए, ताकि फिर से कोई गलती न हो, इसे पढ़ने के बाद खुद उन्हें ही ग्रुप से निकाल बाहर किया गया। लगा, शायद उन्हें ये बात अच्छी नहीं लगी।

आप एमएलए अलका ने साफ़ कहा कि सही सवाल करना अब पार्टी को रास नहीं आ रहा है। अलका ने आरोप लगाया कि पार्टी के भीतर ऐसे काफी लोग मिलेंगे, जो रह-रहकर ऐसा माहौल बना रहे हैं कि या तो वे खुद दूसरों की तरह पार्टी छोड़ दें या फिर पार्टी उन्हें निकाल दे। अलका लांबा ने तर्क देते हुए कहा कि नेताओं के पास उन्हें पार्टी से निकालने जाने की कोई ठोस वजह नहीं है। इसके अलावा उन्होंने अपनी ओर से पार्टी छोड़ने से भी साफ इंकार किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.