Ultimate magazine theme for WordPress.

जमीन विवाद में ग्रामीण की गोली मार हत्या, मृतक पर भी था हत्या का आरोप

0

गया जिले के खिजरसराय प्रखंड अंतर्गत सरबहदा ओपी के कोहवारा गांव में अपराधियों ने घर के बाहर सोए एक ग्रामीण की गोली मारकर हत्या कर दी. ग्रामीण को कान के पास और सीने में गोली मारी गई. अपराधी घर के बाहर ही घटना को अंजाम दे कर भाग निकलने में कामयाब रहे.

बताया जा रहा कि कोहवारा गांव के विद्यानंद यादव उर्फ साधु जी 62 वर्ष अपने घर के बाहर नीम के पेड़ के नीचे सोए थे. इसी बीच देर रात अपराधियों ने वारदात को अंजाम दिया.

घटना के संबंध में परिजनों ने बताया कि जमीन विवाद में अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया है. विद्यानंद यादव ने सतामस गांव में 72 डिसमिल जमीन खरीदी थी. इसे लेकर कुछ लोगों के साथ पिछले 15 दिनों से कुछ अनबन चल रही थी. इसे लेकर विद्यानंद के द्वारा अंचल कार्यालय और थाना में गुहार लगाई गई थी. लेकिन पुलिस-प्रशासन लापरवाही दिखाते रही.

पत्नी बेबी देवी व पुत्र सुनील कुमार ने बताया, विवाद वाली जमीन पर चार दिन पहले मिट्टी भरा गया और जबरन मेड़ देकर जबरदस्ती कब्जे का प्रयास किया गया था. इसे रोके जाने पर विद्यानंद यादव को उक्त लोगों ने जान से मारने की धमकी दी थी. मृतक के पुत्र सुनील कुमार द्वारा दर्ज कराई गई FIR में पांच को नामजद आरोपित बनाया गया है. इसमें सतामस गांव के राजाराम यादव, पप्पू यादव, राजेन्द्र यादव, कोहवारा गांव के कविन्द्र यादव और रवीन्द्र यादव शामिल है.

कहा गया है कि कोहवारा गांव के रवीन्द्र यादव और कविन्द्र यादव ने मिलकर पूरे घटना की साजिश रची थी. इधर, विद्यानंद यादव और उसके भाई सतन यादव पर अपने भतीजे गनौरी यादव की हत्या का आरोप था. इसमें वह सालों से फरार चल रहा था. बीते वर्ष उनकी गिरफ्तारी हुई थी और अक्टूबर महीने में जेल से बाहर आए थे.

नीमचक बथानी DSP रमेश कुमार दुबे ने कहा, हत्या के इस मामले में आरोपितों को पकड़ने के लिए छापेमारी की गई, लेकिन वे घर से फरार थे.। पुलिस कार्रवाई मेें जुटी है और जल्द ही संलिप्त अपराधी पुलिस के गिरफ्त में होगें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.