Ultimate magazine theme for WordPress.

लोकसभा चुनाव 2019 : शिवराज ने परिजनों की कर्जमाफी का दावा खारिज किया

0

भोपाल, पब्लिक व्यू। मध्य प्रदेश में किसानों की कर्जमाफी पर सियासत गर्म है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने परिवार के सदस्यों के कर्ज माफ होने के दावे को खारिज कर दिया है। शिवराज ने कहा कि राहुल गांधी और मुख्यमंत्री कमलनाथ किसान कर्जमाफी मामले में अभी भी गुमराह कर रहे हैं। राहुल सूची दिखा रहे थे कि मेरे भाई रोहित चौहान का कर्ज माफ हुआ है। मैंने हकीकत जाननी चाही तो पता चला कि मेरे भाई ने कर्जमाफी का आवेदन ही नहीं किया था।

शिवराज के इस बयान के बाद कांग्रेस ने कर्जमाफी के दो फॉर्म की फोटो जारी की हैं। इसमें रोहित सिंह और निरंजन सिंह के नाम दिखाई दे रहे हैं। उधर, राहुल गांधी ने गुरुवार को बीना में रैली के दौरान मंच से फार्म दिखाते हुए कहा- अब तो झूठ बोलना बंद कीजिए शिवराजजी। वे कहते हैं कि किसानों का कर्ज माफ नहीं हुआ, लेकिन कमलनाथजी ने मुझे ग्वालियर में बताया कि किसानों के साथ-साथ शिवराज के रिश्तेदारों तक का कर्ज माफ किया है। लेकिन, शिवराज सिंह फिर कह रहे हैं कि कुछ गड़बड़ हो गया। अरे हमारे पास कर्जमाफी के फार्म हैं। हमने सभी का कर्ज माफ किया।

किसान कर्जमाफी कांग्रेस सरकार का झूठ- शिवराज

शिवराज ने कर्जमाफी की सूची दिखाते हुए कहा कि इसमें मेरे भाई रोहित के नाम के आगे लिखा है- आयकरदाता। अगले कॉलम में लिखा है कि कर्जमाफी के लिए कोई आवेदन नहीं किया। कमलनाथ बताएं कि उन्होंने कैसे कर्जमाफ कर दिया। आखिर मेरे ऊपर इतनी मेहरबानी क्यों? शिवराज ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने अब तक किसानों का कर्जमाफ नहीं किया। उल्टा मुझे आई ड्रॉप, बादाम, च्यवनप्राश भेजा, ताकि मैं देख सकूं कि कितने किसानों का कर्जमाफ हुआ है। शिवराज ने कहा कि किसान कर्जमाफी कांग्रेस सरकार का झूठ है। वे प्रदेश के किसानों को मूर्ख समझते हैं। जब तक बैंक किसानों को कर्जमाफी का प्रमाण पत्र नहीं देता, तब तक कर्जमाफी नहीं मानी जाती। उन्होंने कमलनाथ को मशविरा भी दिया। कहा- कमलनाथजी अपने सलाहकार बदल लें, ये आपकी लुटिया डुबा देंगे।
राहुल ने कहा था- शिवराज के भाई और चाचा के बेटे का कर्ज माफ हुआ।

एक दिन पहले ही ग्वालियर की चुनावी सभा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि शिवराज के भाई रोहित सिंह और सगे चाचा के बेटे निरंजन सिंह का भी कर्ज माफ हुआ है। इसके बाद भी वे सरकार पर सवाल उठा रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.