Ultimate magazine theme for WordPress.
Medha Milk

नई सरकार में कौन-कौन बनेंगे मंत्री, किसे मिलेगी मोदी सरकार में अहम जिम्मेदारी ?

0

पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में NDA-2 में जहाँ BJP ने बंगाल में शानदार प्रदर्शन करते हुए 18 सीटों पर जीत हासिल की है. वहीँ 2021 में राज्य में विधानसभा के चुनाव होने को हैं, ऐसे में अंदाजा लगया जा रहा है कि पार्टी बंगाल से मंत्रीयों की संख्या बढ़ा सकती है.

लोकसभा चुनाव में एनडीए की प्रचंड जीत के बाद अब ये सवाल होना शुरू हो गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में किसे जगह मिलेगी और किसे कहना पड़ेगा अलविदा? बता दें कि इस चुनाव में बीजेपी ने अकेले 303 सीटों पर जीत दर्ज की है. शुक्रवार को पीएम मोदी समेत पूरे मंत्रिपरिषद ने इस्तीफा दे दिया था.

कई नेताओं का ऐसा मानना है कि इस बार मोदी मंत्रिमंडल में बीजेपी चीफ अमित शाह भी शामिल होंगे और उन्हें गृह, वित्त, विदेश या रक्षा में से कोई एक मंत्रालय दिया जा सकता है. इसके अलावा NDA के सहयोगी दलों JDU, शिवसेना, LJP के सांसदों को भी मंत्री बनाया जा सकता है.

बीजेपी चीफ शाह को मिलेगी बड़ी जिम्मेदारी?

अंदाजा लगाया जा रहा है कि इस बार BJP अध्यक्ष अमित शाह को रक्षा मंत्रालय की जिम्मेदारी दी जा सकती है. ऐसे में पूर्व रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण सरकार में मुख्य भूमिका में रह सकती हैं.

स्मृति को भी मिलेगा अहम पद

स्मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अमेठी से पराजित किया है. ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि पार्टी उन्हें कोई बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है. वहीं, राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, रविशंकर प्रसाद, पीयूष गोयल, नरेंद्र सिंह तोमर, प्रकाश जावड़ेकर को नए मंत्रिमंडल में बनाए रखे जाने की संभावना है.

दिल्ली से कितने मंत्री

मोदी की मौजूदा कैबिनेट में दिल्ली से सिर्फ डॉ. हर्षवर्धन ही कैबिनेट मिनिस्टर हैं. हालांकि विजय गोयल भी दिल्ली के ही हैं लेकिन चूंकि वे राजस्थान से राज्यसभा सदस्य चुने गए थे, इसलिए उन्हें राजस्थान के कोटे से ही माना जाता रहा है. दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष रह चुके गोयल इस बार भी मंत्री पद के दावेदार हैं, क्योंकि उन्हें लोकसभा का टिकट नहीं दिया गया था. उधर डॉ. हर्षवर्धन को कैबिनेट पद मिलना तय है. हालांकि बीजेपी के सूत्रों का कहना है कि उन्हें लोकसभा स्पीकर बनाने पर भी विचार किया जा सकता है. दिल्ली से मंत्री पद के तीसरे सबसे बड़े दावेदार मनोज तिवारी हैं.

गुजरात से कितने मंत्री?

माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी के गृह राज्य गुजरात से मंत्रिमंडल में पांच लोग मंत्री पद पर बैठ सकते हैं. भरुच से 6 बार के सांसद मनसुख वासवा, नवसारी से तीन बार के सांसद सी आर पाटिल और जामनगर से दूसरी बार की सांसद पूनम मदान को केंद्रीय मंत्रिपरिषद में राज्य मंत्री का पद मिल सकता है. इसके अलावा पुरषोत्तम रुपाला और मनसुख मंडाविया में से किसी एक को कैबिनेट रैंक दिया जा सकता है.

नए और युवा चेहरों को भी मिल सकता है

NCR से बृजेन्द्र सिंह को मोदी कैबिनेट में जिम्मेदारी दी जा सकती है. आपको बता दें कि बृजेन्द्र सिंह मौजूदा कैबिनेट में मंत्री चौ. बीरेन्द्र सिंह के बेटे हैं. इस बार चौ. बीरेन्द्र सिंह की जगह उनके बेटे बृजेन्द्र सिंह को मोदी कैबिनेट में जगह दी जा सकती है. इसके अलावा पार्टी कुछ युवाओं को भी मंत्रिमंडल में शामिल कर सकती है.

BJP के अलावा उसके सहयोगी दलों के नेताओं को मिल सकता मंत्री पद

JDU और शिवसेना को भी नई कैबिनेट में स्थान दिया जा सकता है, क्योंकि दोनों दलों ने 16 और 18 सीट दर्ज करके शानदार प्रदर्शन किया है. पिछली सरकार में JDU से कोई मंत्री मोदी मंत्रिमंडल में नहीं था. इसके अलावा रामविलास पासवान की एलजेपी को भी मंत्रिमंडल में जगह मिलना तय है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.