Ultimate magazine theme for WordPress.

बाड़मेर हादसा: 60 सेकेंड तक आसमानी मौत का कहर. जानिए इनसाइड स्टोरी.

0

राजस्थान के बाड़मेर में एक पंडाल (तंबू) गिरने से 14 लोगों की मौत हो गई और 50 से अधिक घायल हो गए. बाड़मेर में अचानक बारिश और तूफान के कारण यह हादसा शाम करीब 4:30 बजे हुआ.

घायल व्यक्तियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. रिपोर्टों के अनुसार, बाड़मेर में स्थानीय लोग राम कथा (राम की कहानी) सुनने के लिए इकट्ठे हुए थे.

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, खिनव सिंह ने कहा कि जिले के जसोल इलाके में एक ‘राम कथा’ का आयोजन किया गया था, जिसमें तेज आंधी में लोग फंस.

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बाड़मेर पांडाल हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये देने की घोषणा की है. घायलों को मुआवजे के रूप में दो लाख रुपये प्रदान किए जाएंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बाड़मेर टेंट गिरने की घटना के बारे ट्वीट करते हुए अपनी संवेदनायें ज़ाहिर की.

पीएम मोदी ने कहा, “राजस्थान के बाड़मेर में एक पंडाल का गिरना दुर्भाग्यपूर्ण है. मेरे विचार शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं और मैं घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूं.”(हिंदी अनुवाद)

अमित शाह ने कहा, “राजस्थान के बाड़मेर में एक पंडाल के गिरने से जानमाल के नुकसान के बारे में जान दुख हुआ. मैं शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं. घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूँ.” (ट्वीट हिंदी अनुवाद)

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि, स्थानीय प्रशासन द्वारा राहत एवं बचाव का कार्य किया जा रहा है. सम्बंधित अधिकारियों को हादसे की जांच करने, घायलों का शीघ्र उपचार सुनिश्चित करने तथा प्रभावितों एवं उनके परिजनों को हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं.

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी ट्वीट किया, बाड़मेर के जसोल में राम कथा के दौरान तेज आंधी से गिरे पांडाल हादसे में एक दर्जन से अधिक लोगों की मौत का समाचार सुन बेहद दुःख हुआ.मैं ईश्वर से दिवंगतों की आत्मा को शांति तथा शोक संतप्त परिजनों को कष्ट की इस घड़ी में संबल प्रदान करने की कामना करती हूं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.