Ultimate magazine theme for WordPress.
Medha Milk

UP सड़क हादसे में 4 की मौत 6 घायल, भारत में हर दिन 1214 सड़क हादसे.

0

फिरोजाबाद: सिरसागंज थानाक्षेत्र में करहल रोड पर सड़क हादसे में एक महिला सहित चार लोगों की मौत हो गई और छह अन्य घायल हो गए.

सड़क हादसे में SSP का बयान

SSP सचिन्द्र पटेल ने शनिवार को बताया कि थाना सिरसागंज क्षेत्र में करहल रोड पर कुछ मजदूर किसी के यहां लेंटर डालकर टैम्पों में सवार होकर शुक्रवार रात अपने घर जा रहे थे. टेम्पो में अन्य सवारियां भी थीं.

पटेल ने बताया कि जैसे ही टैम्पो थाना सिरसागंज क्षेत्र के सिंगमई गांव के समीप पहुंचा तभी सामने से आ रहे ट्रक ने टैंपों को रौंद दिया. इसमें ट्रक भी पलट गया.

उन्होंने बताया कि इस घटना में राजेश कुमार (42) की मौके पर ही मौत हो गई. अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टरों ने विमलेश (40) और उसकी पत्नी रक्षा (35) को मृत घोषित कर दिया. देर रात अजमेश (25) की भी मौत हो गयी.

आए दिन किसी न किसी राज्य में होते रहते हैं हादसे

देश में हादसों का दौर खत्म ही नहीं हो रहा हैं किसी न किसी राज्य में कोई न कोई दुर्घटना घटती रहती हैं.

  • भारत में हर दिन 1214 सड़क दुर्घटनाएँ होती हैं.

सड़क दुर्घटना में होने वाली मौतों (रैंक-वाइज) की सर्वाधिक संख्या वाले शीर्ष 10 शहर:

  • दिल्ली
  • चेन्नई
  • जयपुर
  • बेंगलुरु
  • मुंबई
  • कानपुर
  • लखनऊ
  • आगरा
  • हैदराबाद
  • पुणे

वहीँ दुनिया भर में सड़क दुर्घटनाओं में तेजी से वृद्धि हुई है

वहीँ दुनिया भर में सड़क दुर्घटनाओं में वृद्धि हुई है; जिनमें से भारत सड़क दुर्घटना में होने वाली हर 9 मौतों में 1 के साथ शीर्ष स्थान पर है.

उदाहरण के लिए, अफ्रीका में उच्चतम दर 26.6 प्रति 1,00,000 व्यक्तियों के साथ दर्ज की गई जबकि सबसे कम यूरोप में 9.3 प्रति 1,00,000 व्यक्तियों पर थी. वहीँ भारत में, 2016 में सड़क दुर्घटनाओं को भारत सरकार द्वारा 1,50,785 बताया गया था. लेकिन, WHO द्वारा प्रस्तुत नवीनतम रिपोर्ट, 2,99,091 पर मृत्यु की संख्या का अनुमान लगाया गया है, जो सरकार के दावे से लगभग दोगुना है. अगर WHO की रिपोर्ट सही है, तो सड़क दुर्घटनाओं में प्रति दिन 821 मौतें होती हैं, भारत में सड़क दुर्घटनाओं के कारण हर घंटे 34 मौतें होती हैं.

यह खबर आपको कैसी लगी आप हमें कमेंट में ज़रूर बताएं. हम और क्या नया कर सकते हैं वह भी बताएं. यदि आपके पास कोई ख़बर कोई सुचना है तो आप हमें हमारे वेबसाइट पर जा कर या फेसबुक की मदद से भेज सकते है. आपका VIEW हमारे लिए ज़रूरी है क्यूंकि आपसे से यानि Public से ही तो publicview.in है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.