Ultimate magazine theme for WordPress.
Medha Milk

दुमका के सुधर गृह से सामूहिक दुष्कर्म 4 नाबालिग आरोपी फरार,छानबीन में जुटी पुलिस

0

झारखंड के दुमका में हिजला गांव थाना क्षेत्र स्थित बाल सुधार गृह सह संप्रेक्षण गृह से बुधवार की रात दिग्घी गैंग रेप कांड में शामिल चार बाल बंदी पुलिस को चकमा दे कर फरार हो गए. जानकारी के मुताबिक शौचालय में सेंध लगाकर सभी भाग निकले.

बाल अपराधियों की भागने की जानकारी थाना अधिकारीयों को तब हुई जब गुरुवार की सुबह पदाधिकारियों ने बच्चों की गिनती की. गिनती करने पर पुलिस को चार बाल अपराधी कम मिले.

बताया गया कि सभी की उम्र 14 से 18 साल के बीच है. फरार हुए सभी बाल बंदी के तलाश के लिए SP ने टीम गठित की है. फरार सभी के नाबालिगों के खिलाफ चाइल्ड कोर्ट में केस चल रहा है. इनमें से एक की उम्र 14 साल से कम है, जिसके लिए मामला जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड में चल रहा है.

आपको बता दें कि, सामूहिक दुष्कर्म के इस मामले में दस जून को अपर जिला एवं सत्र न्यायालय ने 11 अभियुक्तों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी.

बाल सुधार गृह के गृहपति दिनेश महतो ने बताया कि बुधवार की रात चारों बाल अपराधियों ने पहले शौचालय में सेंध लगायी, इसके बाद बेंच लगाकर दीवार फांदकर भागने में कामयाब हुए. सुबह गिनती के दौरान जब बाल अपराधियों को कम पाया गया तो छानबीन में चार बंदियों के भागने का पता चला.

उन्होंने आगे बताया कि जिस कमरे में चारों रह रहे थे, उस कमरे में अटैच शौचालय है. सभी ने पहले उसकी ईंट निकाली और कमरे से बाह निकल गए. चारदीवारी को फांदने के लिए उन्होंने टेबल की मदद ली.

CCTV फुटेज में पाया गया है कि रात के 2.30 बजे बाल अपराधी बेंच लगा रहे थे. गृहपति दिनेश महतो ने यह बताया कि एक आरोपी को छोड़कर 1 साल पहले भी तीन सुधार गृह से भाग गए थे, लेकिन बाद में वे वापस आ गए.

जेजेबी के प्रधान मजिस्ट्रेट को जब जानकारी मिली तो बाल सुधार गृह जाकर बाल बंदियों के भागने के बारे में छानबीन की है, SP व SDO भी मौके पर पहुंचे और छानबीन की.

नगर थाना प्रभारी देवव्रत पोद्दार ने बताया कि चार बाल बंदियों के निकलने की जानकारी मिलने बाद अलग अलग बसों एवं अन्य वाहनों में जांच अभियान चलाया गया पर कोई भी बंदी को पकड़ने में नाकाम रहे.

जिला समाज कल्याण पदाधिकारी श्वेता भारती का कहना है कि, इस मामले में गृहपति दिनेश महतो से जवाबदेहि मांगी गयी है. तैनात सभी गा‌र्ड्स को निलंबित करने की अनुशंसा की जा रही है. इस मामले में जो भी दोषी पाए जाएंगे उनके खिलाफ निश्चित रूप से कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

Leave A Reply

Your email address will not be published.