Ultimate magazine theme for WordPress.
Medha Milk

आख़िर अमरनाथ यात्रा बीच में क्यों रोकी गई, क्या होने वाला है कश्मीर में? जानिए

0

जम्मू कश्मीर से एक एडवाइजरी जारी की गयी है, जिसके बाद अमरनाथ यात्रा रोक दी गई है. पर्यटकों से कहा गया है कि कश्मीर खाली कर दें. कहा गया कि श्रद्धालु अपनी यात्रा जल्द से जल्द पूरी करें और घर लौट जाएं.

वजह क्या है यात्रा को रोकने की

सुरक्षाबलों को अमरनाथ यात्रा पर सर्च ऑपरेशन के दौरान एक बारूदी सुरंग मिली और अमरीकी M24 स्नाइपर राइफल मिली है.

जो लैंडमाइन जब्त हुए हैं उसे पाकिस्तान के ऑर्डिनेंस फैक्ट्री में बनाया गया था.

चिनारकोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल के जी एस ढिल्लो और जम्मू कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने शुक्रवार को एक प्रेस कांफ्रेंस किया.

प्रेस कांफ्रेंस में बरामद की गई स्नाइपर राइफल भी दिखाई गई. साथ ही बताया गया कि अमरनाथ यात्रा के श्रद्धालु आतंकवादियों के निशाने पर हैं. आईडी विस्फोटकों का खतरा ज्यादा है.

 

गौरतलब है कि, पुलिस और सेना ने भरोसा दिलाया है कि LOC पर स्थिति नियंत्रण में है.

 

इन सब के बाद अमरनाथ यात्रा को रोकने का फैसला किया गया.

एडवाइजरी जम्मू कश्मीर गृह विभाग के तरफ से आई है.

बता दें कि पहले अमरनाथ यात्रा 15 अगस्त तक चलने वाली थी अब रोक डी गई है.

 

पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को कहा

घाटी में बढ़ती अटकलों के बीच राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को कहा कि ‘अब मामला आर पार का हो चुका है और भारत ने जनता के बजाय जमीन को तरजीह दी है.

 

 

महबूबा मुफ्ती ने कहा, ‘सालों से अमरनाथ यात्रा होती चली आ रही है. लेकिन दुर्भाग्य से इस साल जो इंतजाम किए गए हैं वे कश्मीर के लोगों के खिलाफ हैं. स्थानीय लोगों की रोजमर्रा की जिंदगी में इससे बहुत सारी कठिनाई हो रही है. मैं राज्यपाल से इस मामले में दखल देने की अपील करती हूं.’

उन्‍होंने राज्‍यपाल सत्‍यपाल मलिक से भी भेंट की. उन्‍होंने एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस को संबोध‍ित करते हुए कहा कि मैंने 70 साल में इतना डर और भय का माहौल घाटी में नहीं देखा है.

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें पढ़िए www.publicview.in पर, साथ ही साथ आप Facebook, Twitter, Instagram और Whats App के माध्यम से भी हम से जुड़ सकते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.