Ultimate magazine theme for WordPress.
Medha Milk

झारखंड में दो दुष्कर्म के बाद सूबे में उबाल, बेटियों की सुरक्षा पर उठे सवाल

Boiling in the state after two rapes in Jharkhand, questions raised over daughters' safety

0

रांचीझारखंड में दो नाबालिक लड़की से हुए दुष्कर्म की घटनाओं ने सभी को झंझोर कर रख दिया है। दो दिनों में झारखंड के गुमला और साहेबगंज में हुए दुष्कर्म के बाद राजनीतिक बयानबाजी भी तेज हो गई है। सोमवार को गुमला के चैनपुर में पांचवीं की छात्रा से पांच युवकाें ने सामूहिक दुष्कर्म किया गया। इसके बाद पीड़िता सात घंटे तक जंगल में तड़पती रही और दूसरे दिन सुबह घर पहुंचकर परिजनाें काे जानकारी दी। दूसरी ओर साहेबगंज के लकीपुर गांव में एक आदिवासी नाबालिक की हत्या के बाद विपक्ष लगातार सरकार व विधि व्यवस्था पर सवाल उठा रहा है।

भाजपा ने सरकार से तत्काल कार्रवाई की मांग की है

भाजपा दल के विधायक बाबूलाल मरांडी ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से तत्काल कार्रवाई करने की मांग की है। उन्होंने बताया कि पुलिस इस मामले को कवर अप करने की कोशिश में लगी है। साहिबगंज के लकीपुर गांव की घटना में पुलिस की भूमिका संदिग्ध होने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा की पीड़िता की मां ने थाने जाकर इस पूरे मामले की शिकायत की थी। लेकिन रंगा थाने के थानेदार ने उन्हें इस मामले को गांव में ही सलटाने की बात कहकर लौटा दिया था।
साहेबगंज में नाबालिक की हत्या, दुष्कर्म का आरोप

साहेबगंज में एक नाबालिग लड़की की रहस्मय ढंग से हत्या कर दी गई। फिर शव उसके ही घर के छज्जे पर रख दिया गया। परिजनाें का आराेप है कि लड़की की सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या की गई है। पुलिस ने बड़ी लापरवाही दिखाते हुए केस दर्ज करने की बजाय पंचायत में मामला सुलझाने की बात कहकर भेज दिया और पंचायत के दबाव में उसे दफनाना पड़ा।
सूत्रों के अनुसार पहले शव को मिट्‌टी के खदान में फेंक दिया था। गांववालों ने हटाने को कहा तो उसे उसी के छज्जे पर रख दिया। दबाव बढ़ा तो साहेबगंज एसपी अनुरंजन किस्पाेट्टा ने बरहरवा एसडीपीओ काे साैंपी। एसडीपीओ ने जांच शुरू कर साेमवार रात चार आराेपियाें काे हिरासत में लिया है। मंगलवार काे मजिस्ट्रेट की देखरेख में शव काे कब्र से निकालकर पाेस्टमार्टम के लिए भेजा गया।
ग्रामीणों के अनुसार दाे नाबालिग लड़कियां शुक्रवार काे गांव के पास ही फुटबाॅल मैच के दाैरान मेला देखने गई थी। मृतका की सहेली ने बताया कि उस लड़की काे पूर्व प्रेमी ने दूसरे लड़के के साथ देख लिया। लाैटते समय उसने चार साथियाें के साथ उसे पकड़ लिया और दुष्कर्म कर हत्या कर दी और शव काे बाेरी में बंद कर लालमाटी खदान में फेंक दिया। इस दाैरान माैका पाकर वह भाग निकली और पीड़िता के परिजनाें काे सूचना दी।

पीड़िता की माता का वीडियो स्टेटमेंट सामने आ गया

अब पीड़िता की माता का वीडियो स्टेटमेंट सामने आ गया है कि वह थाने गई थी और थानेदार ने मामले को लेने से इनकार किया था। बाबूलाल मरांडी ने कहा कि ऐसे में पुलिस की भूमिका बहुत निंदनीय हो जाती है।जिस तरीके से एक नाबालिग की हत्या के बाद न्याय मांगने थाना गई माता को पुलिस ने भगा दिया यह पूरे सिस्टम की वास्तविकता को दिखाता है। बाबूलाल मरांडी ने मांग की कि अविलम्ब दोषी पुलिस अधिकारियों को निलंबित करके पूरे घटना की उच्च स्तरीय निष्पक्ष जांच कराई जाए। क्योंकि वहाँ की पुलिस खुद इस मामले में कार्रवाई न करने को लेकर कठघरे में है ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.