Ultimate magazine theme for WordPress.
Medha Milk

सीसीएल: महाप्रबंधक अपने-अपने क्षेत्र में कोयला उत्‍पादन बढ़ाए-सीएमडी

एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्‍बुलेंस अस्‍पताल को समर्पित

0

रांची।  सी.सी.एल. मुख्यालय, दरभंगा हाउस, रांची में कोल इंडिया के अध्यक्ष  प्रमोद अग्रवाल ने सी.सी.एल. के कार्य निष्पादन की समीक्षा बैठक की। समीक्षा बैठक में  प्रमोद अग्रवाल ने क्षेत्रिय महाप्रबंधकों से वर्चुअल माध्‍यम से सीधा सवांद किया और उन्‍होंने सभी  एवं प्रेषण पर विशेष ध्‍यान दें ताकि कंपनी अपना लक्ष्‍य की प्राप्ति कर सके। उन्होंने कोयला उत्‍पादन से संबंधित एवं रेलवे लाईन, वे-ब्रिजेज आदि पर जानकारी ली। क्षेत्रिय महाप्रबंधक एवं मुख्‍यालय के अधिकारीगण ने भी अपना-अपना विचारों से अध्‍यक्ष, कोल इंडिया को अवगत कराया।

सीसीएल के सीएमडी श्री पी.एम. प्रसाद ने अध्यक्ष, कोल इंडिया श्री प्रमोद अग्रवाल का स्‍वागत किया और पावर प्‍वाइंट प्रेजेंटेशन के माध्‍यम से कंपनी के कोयला उत्‍पादन, प्रेषण एवं अन्‍य बिन्‍दुओं पर विस्‍तार से जानकारी दी।सीसीएल के सीएमडी  प्रसाद ने कहा कि सीसीएल अपने लक्ष्‍य की ओर अग्रसर है इस संबंध में केन्‍द्र सरकार, कोयला मंत्रालय एवं राज्‍य सरकार का सहयोग निरंतर मिल रहा है। कोयला उत्‍पादन के साथ-साथ सभी क्षेत्रों में श्रमिक संघ के प्रतिनिधिगण, जेसीएससी, वेलफेयर बोर्ड एवं सेफ्टी बोर्ड सहित सीसीएल वृहद परिवार के प्रत्‍येक सदस्‍य का महत्‍वपूर्ण योगदान है। प्रसाद ने विश्‍वास जताया  कि सी.सी.एल. 100 मिलियन टन कोयला उत्‍पादन के लक्ष्‍य को आने वाले समय में अवश्‍य प्राप्‍त करेगा।

बैठक में सीसीएल के सीएमडी  पी.एम. प्रसाद, निदेशक तकनीकी (संचालन)  वी.के. श्रीवास्‍तव, निदेशक (वित्‍त)  एन.के. अग्रवाल, निदेशक (कार्मिक)  विनय रंजन, सीवीओ,  एस.के. सिन्‍हा, महाप्रबंधक/चेयरमैन के तकनीकी सचिव  एम.के. सिंह, सीएमडी के तकनीकी सचिव  एम.वी. रजिमवाले सहित सीसीएल मुख्यालय के महाप्रबंधक, विभागाध्यक्ष एवं क्षेत्रिय महाप्रबंधक उपस्थित थे।

एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्‍बुलेंस अस्‍पताल को समर्पित

कोल इंडिया लिमिटेड के अध्‍यक्ष  प्रमोद अग्रवाल सीसीएल के दौरे के दौरान आज सीसीएल मुख्‍यालय, रांची में फ्लैग ऑफ कर 2 एडवांस लाइफ सपोर्ट (एएलएस) एम्‍बुलेंस को सीसीएल परिवार को समर्पित किया।

सीसीएल अपने कमांड क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर करने के लिए प्रतिबद्ध है। इसी कड़ी में सीसीएल अस्‍पतालों में 07 एंबुलेंस का व्‍यवस्‍था किया गया है। ये सभी एम्‍बुलेंस डिफिब्रिलेटर, इन्फ्यूजन पंप, ऑक्सीजन सिलेंडर रेगुलेटर, पोर्टेबल सक्शन पंप, ट्रांसपोर्ट वेंटिलेटर आदि जैसी कई अत्‍याधुनिक उपकरणों से सुसज्जित है जिसके माध्‍यम से गंभीर आपात स्थिति में मरीजों को अतिशीघ्र चिकित्सा सुविधा प्रदान किया जायेगा। ये सभी एंबुलेंस को केन्‍द्रीय अस्‍पताल, गांधी नगर, रांची; रामगढ़ केंद्रीय अस्पताल; केन्‍द्रीय अस्‍पताल, डकरा; केन्‍द्रीय अस्‍पताल, ढोरी, केन्‍द्रीय अस्‍पताल, मगध आम्रपाली, केन्‍द्रीय अस्‍पताल, बरका-सयाल एवं केन्‍द्रीय अस्‍पताल, हजारीबाग (परेज) में संचालित किया जायेगा।

इस अवसर पर अध्‍यक्ष  प्रमोद अग्रवाल ने कहा कि एम्‍बुलेंस सेवा से चिकित्‍सा क्षेत्र और मजबूत हुआ है और जरूरतमंदों को उत्‍कृष्‍ट स्‍वास्‍थ्‍य सेवा मिलेगा।सीएमडी  पी.एम. प्रसाद ने कहा कि आधुनिक उपकरण से लैस एम्बुलेंस से हमारे कर्मी एवं स्‍टेकहोल्‍डर्स लाभान्वित होंगे। हमारी प्राथमिकता उन्‍हें समय पर चिकित्‍सा सेवा उपलब्‍ध कराना है। उन्‍होंने कहा कि सीसीएल के दो अस्‍पतालों में कोविड संक्रमणों का इलाज चल रहा है और अभी 10 हजार से अधिक कोरोना संक्रमितों का सफलतापूर्वक ईलाज किया जा चुका है।

कोल इंडिया लिमिटेड के अध्‍यक्ष का कंज्‍यूमर्स के साथ संवाद

कोल इंडिया लिमिटेड के अध्‍यक्ष  प्रमोद अग्रवाल ने अपने कोयला उपभोक्‍ता (कंज्‍यूमर्स) के साथ बैठक किया। इस अवसर पर सीसीएल के सीएमडी  पी.एम. प्रसाद, निदेशकगण एवं सेल्‍स एवं मार्केटिंग विभाग के अधिकारीगण उपस्थित थे। कंज्‍यूमर्स ने प्रबंधन के समक्ष अपनी बातों को रखा और अध्‍यक्ष कोल इंडिया ने उनके प्रत्‍येक बात को ध्‍यानपूर्वक सुना और आवश्‍यक निर्देश दिये। कंज्‍यूमर्स ने रिफंड, वे-ब्रिज को बढ़ाना आदि पर प्रबंधन से चर्चा किया।

इस अवसर पर सीसीएल के सीएमडी  पी.एम. प्रसाद, निदेशक तकनीकी (संचालन)  वी.के. श्रीवास्‍तव, निदेशक (वित्‍त)  एन.के. अग्रवाल, सीवीओ,  एस.के. सिन्‍हा, सीएमएस सीसीएल डॉ. मंजू मिश्रा, सीएमएस गांधीनगर डॉ डी.के.एल. चौहान, सीएमएस रामगढ़ डॉ वी.के. सिंह, डॉ अंजना झा, डॉ रत्‍नेश जैन, डॉ सुमन सिंह, डॉ बासुदेव रजक सहित सीसीएल मुख्यालय के विभिन्‍न विभागों के महाप्रबंधक, विभागाध्यक्ष, श्रमिक संघ के प्रतिनिधिगण एवं कर्मी सोशल डिस्‍टेंशिंग का पालन करते हुये उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.