Ultimate magazine theme for WordPress.
Medha Milk

मुखर्जी नगर मामले में उच्च न्यायालय ने दिल्ली पुलिस को लगायी फटकार

0

दिल्ली उच्च न्यायालय ने बुधवार को दिल्ली के मुखर्जी नगर में एक टेम्पो चालक और उसके नाबालिग बेटे पर कथित पुलिस हमले को लेकर दिल्ली पुलिस और गृह मंत्रालय (MHA) को नोटिस जारी किया और मीडिया को नाबालिग की पहचान उजागर नहीं करने का निर्देश दिया.

इस घटना पर नाराजगी व्यक्त करते हुए, अदालत ने कहा कि नागरिकों को यह महसूस करना चाहिए कि पुलिस बल उनके लिए है, खासकर बच्चों को. पुलिस ने बताया कि अधिकारियों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है और क्राइम ब्रांच को स्थानांतरित कर दी गई है.

“जस्टिस जयंत नाथ और नजमी वादीरी की एक बेंच ने कहा, “दिल्ली पुलिस में कई बेहतरीन अधिकारी हैं, अगर कुछ ऐसे हैं जो खुद को नियंत्रित नहीं कर सकते हैं, तो उनके खिलाफ कार्रवाई करने की आवश्यकता है. पिता के साथ जिन्होंने मारपीट की उनको  अलग करते हैं लेकिन बच्चे पर हमले करने वालों की पहचान करने की ज़रुरत है. अगर वर्दी बल इस तरह से काम कर रहा है, तो यह नागरिकों को डरा देगा,

यह मामला रविवार को पुलिस अधिकारियों और एक टेम्पो चालक के बीच विवाद से संबंधित है. कथित तौर पर यह घटना तब हुई जब टेम्पो एक पुलिस वैन से जा टकराई. घटना की वीडियो क्लिप, जो सोशल मीडिया पर वायरल है, टेंपो चालक हाथ में तलवार लेकर पुलिसकर्मियों का पीछा करते हुए नज़र आ रहा है. एक अन्य वीडियो में पुलिसकर्मी उसे डंडों से पीटते हुए दिख रहे. याचिकाकर्ताओं ने दावा किया कि दोनों को पुलिस द्वारा बेरहमी से हमला किया और मामले की मेडिकल रिपोर्ट की मांग की.

पुलिस ने इस घटना पर क्रॉस केस दर्ज किया था और दो सहायक सब इंस्पेक्टर सहित तीन पुलिसकर्मियों को “अनप्रोफेशनल कंडक्ट” के लिए सस्पेंड कर दिया गया.

जब शालीमार बाग के ACP केजी त्यागी उन्हें तीन पुलिस कर्मियों के निलंबन के बारे में बताने के लिए वहां गए, तो उन्हें रविवार शाम मुखर्जी नगर में प्रदर्शनकारियों द्वारा कथित रूप से पीटा गया.

इस घटना ने राजौरी गार्डन के शिरोमणि अकाली दल के विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा के साथ रविवार देर रात तक मुखर्जी नगर पुलिस स्टेशन के बाहर विरोध प्रदर्शन किया था. उन्होंने मांग की कि इसमें शामिल पुलिसकर्मियों को बर्खास्त किया जाना चाहिए क्योंकि उन्होंने उनकी पगड़ी पर हमला करके उस व्यक्ति का अपमान किया.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी घटना में दोषी और निष्पक्ष जांच के लिए सख्त कार्रवाई की मांग की.

Leave A Reply

Your email address will not be published.