Ultimate magazine theme for WordPress.

Uttarakhand : ख़राब यातायात के कारण गर्भवती महिला को नाव में अस्पताल ले जाना पड़ा.

0

उत्तराखंड के कुछ हिस्सों में भारी बाढ़ के कारण रोजमर्रा की ज़िन्दगी में असर पड़ रहा है, खटीमा क्षेत्र के एक वार्ड के निवासियों ने बेहतर यातायात और राहत की मांग की है.

आंदोलन तूर तब पकड़ा जब एक गर्भवती महिला के परिवार के सदस्यों को गुरुवार को एक नाव में उसे अस्पताल ले जाने के लिए मजबूर होना पड़ा.

Due to poor traffic, the pregnant woman had to be taken to the hospital in the boat.

यहां वार्ड नंबर 10 के निवासी, ज्यादातर महिलाएं, प्रदर्शन करने के लिए उप-विभागीय मजिस्ट्रेट के कार्यालय के सामने एकजुट हुई.

एक प्रदर्शनकारी सुषमा देवी ने कहा, “हम वार्ड नंबर 10 से आए हैं. पिछले साल मेरा जीजा डूब गया था। अब एक गर्भवती महिला को नाव में अस्पताल पहुंचाया गया क्योंकि वहां हर जगह पानी था और सड़कें नहीं थीं.”

Due to poor traffic, the pregnant woman had to be taken to the hospital in the boat.

“एक लड़के को मंगलवार को डूबने से बचाया गया था. हम असहाय हैं क्योंकि हमारे बच्चे 10 दिनों तक स्कूलों में नहीं गए. हम यहां उप-विभागीय मजिस्ट्रेट (SDM) कार्यालय के सामने विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. हमें उम्मीद है कि प्रशासन हमारी मदद करेगा. यह, उन्होंने कहा.

वार्ड के कॉर्पोरेटर मनोज कुमार ने कहा, “हम हर साल बाढ़ और जल-जमाव के कारण परेशानी का सामना कर रहे हैं. बरसात के मौसम के दौरान हमें इस समस्या का सामना करना पड़ता है. लोगों को पूरे एक सप्ताह बिना खाए-पिए रहना पड़ता है क्योंकि वे बाहर नहीं जा सकते.”

उन्होंने कहा, “पिछले साल एक व्यक्ति बाढ़ में डूब गया था। मैं प्रशासन से अनुरोध करता हूं कि वह यहां सड़कें बनाए ताकि गांवों में रहने वाले लोग बारिश के मौसम में अपना काम कर सकें.”

बता दें कि, भारत मौसम विभाग ने गुरुवार को कहा कि उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश और बिहार के पूर्वी हिस्से जैसे राज्यों में शुक्रवार (12 जुलाई) को भारी वर्षा होने की संभावना है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.