Ultimate magazine theme for WordPress.

हिंसा भड़कने के संभावनाओं को देखते हुए गृह मंत्रालय ने किया अलर्ट जारी.

0

मतगणना के दौरान देश के अलग-अलग जगहों पर हिंसा भड़कने के संभावनाओं को देखते हुए गृह मंत्रालय ने बुधवार को राज्यों को अलर्ट जारी किया है. उपेन्द्र कुशवाहा के ‘खून खराबा’ हो जाएगा वाले बयान के एक दिन बाद केन्द्र की तरफ से यह एडवाइजरी जारी हुई. कुशावाहा ने धमकी देते हुए कहा था कि अगर लोगों के वोटों को चुराने का कोई प्रयास होता है तो ‘खून खराबा’ हो जाएगा।

बिहार में बीजेपी के सहयोगी और केन्द्रीय मंत्री राम विलास पासवान ने कुशवाहा की धमकी का जवाब देते हुए कहा कि ‘मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा।’. पासवान ने ये बयान बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की तरफ से दिए गए डिनर के बाद के बाद दिया.

केन्द्रीय गृह मंत्रालय का बयान

गृह मंत्रालय ने सभी राज्य और केन्द्र शासित प्रदेशों से कहा है कि वह मतगणना केन्द्र की सुरक्षा बढ़ाने के साथ ही कानून व्यवस्था और शांति बनाए रखने के लिए पर्यापत कदम उठाएं.

गृह मंत्रालय ने यह बात साफ नहीं किया कि आखिर किस वजह से उन्हें मतगणना से ठीक पहले एडवाइजरी जारी करनी पड़ी. लेकिन गृह मंत्रालय ने ये कहा कि इससे पीछे कई बयानों में मतगणना वाले दिन हिंसा भड़काने और नुकसान पहुंचाने जैसी बातों के चलते इस तरह का अलर्ट जारी किया गया है.

वैसे भी इस चुनाव में बयानों के तीर खूब चले हैं.चाहे वो बसपा चीफ मायावती का बयान हो या साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का बयान हो.

इस चुनाव में समजवादी पार्टी के नेता आजम खां पर उत्तर प्रदेश में चुनाव आयोग के अधिकारियों के खिलाफ भड़काऊ बयान देने और सांप्रदायिक टिप्पणियां करने के मामले में ये रोक लगाई गई थी.

EC ने अप्रत्याशित फैसला लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती के प्रचार करने पर रोक लगा दी थी.

Leave A Reply

Your email address will not be published.