Ultimate magazine theme for WordPress.
Medha Milk

गुरुग्राम में टोल प्लाजा पर कार्यरत लड़कियों के साथ रोज होती है बदतमीज़ी

0

गुडगांव के टोल प्लाजा पर 21 जून की सुबह 8:50 पर काम करने वाली ललितपुर की लड़की संतोषी कुमारी के साथ एक लोकल लड़के ने मारपीट की. युवती के मुंह पर थप्पड़ मारते हुए युवक की यह शर्मनाक हरकत CCTV कैमरे में कैद हो गई. खेड़की दौला पुलिस थाने में युवती के साथ हुई हरकत की FIR दर्ज कराई गई हैं.

टोल कंट्रोलर सुषमा राउत ने बताया कि घायल युवती संतोष को अस्पताल ले जाया गया और अभी वह ठीक हैं. टोल प्लाजा पर काम करने वाले लड़के व लड़कियों ने कहा कि यहां पर रोजाना गाली- गलौज और मार पिटाई होती रहती हैं.

UP के अरुण, गुरुग्राम के टोल प्लाजा पर कार्यरत हैं उन्होंने कहा कि इस टोल प्लाज़ा पर गालियों और मारपीट का जो माहौल बना हुआ है वो उन्होंने कहीं नहीं देखा है. गुरुग्राम के प्रोजेक्ट हेड राजेंद्र सिंह भाटी ने भी कहा कि, मैं इससे पहले महाराष्ट्र के कई शहरों में काम कर चुका हूं. लेकिन इस तरह का माहौल मैंने कभी किसी टोल प्लाज़ा पर नहीं देखा है.

टोल कंट्रोलर सुषमा राउत ने फेक ID से भरा एक बॉक्स दिखाया और बताया कि, सबसे ज़्यादा इस तरह के काम दिल्ली पुलिस और लोकल लोग करते हैं. हम ड्यूटी पर तैनात गाड़ियों या सरकारी काम पर लगी गाड़ियों को तो जाने देते हैं. लेकिन कॉन्सटेबल टोल नहीं भरना चाहते हैं. कई बार वो बदतमीज़ी पर उतर आते हैं. हमारे पास 30 लड़कियां और करीब 200 लड़कों का स्टाफ है. यहां पर 3 शिफ्ट में काम होता है. लड़कियों को हमेशा दिन की शिफ्ट में ही काम पर बुलाया जाता हैं.

सुषमा राउत ने कहा कि कंपनी ने लड़कियों को भर्ती करने से पहले सोचा था कि लड़कियों की भर्ती से गाली–गलौज में कमी आएगी. लोग लड़की को देखकर ठीक तरीके से बात करेंगे. लेकिन ऐसा कुछ नहीं है. बल्कि लड़कियों के साथ ज़्यादा बदतमीजी की जाती है. ऐसे में टोल कलेक्ट करने वाले रूम के बाहर लड़कियों के साथ SDO के तौर पर हमेशा एक लड़का मौजूद रहता है

Leave A Reply

Your email address will not be published.