Ultimate magazine theme for WordPress.

हज़ारीबाग: “जल संरक्षण” से इस व्यक्ति के घर का सूखता नहीं कुआं, अन्य लोग भी हुए जागरूक

0

केंद्रीय सरकार देश में पानी की समस्या को लेकर चर्चाएं करती रहती हैं. PM मोदी ने पानी को बचाने के लिए “जल शक्ति अभियान” शुरू किया है. ताकि जनता अपने- अपने विचार के जरिए पानी को बचा सके. PM मोदी का कहना है कि बारिश के पानी को संरक्षित करके रखना चाहिए.

कुछ सालों से हजारीबाग में पानी का स्तर काफी नीचे पहुंच गया है. इसलिए हजारीबाग में पानी के स्तर को ऊपर लाने के लिए वॉटर हार्वेस्टिंग जागरूकता अभियान कई स्तर पर चल रहा है. इसकी शुरुआत झारखंड के हजारीबाग के शहरी कोर्रा चौक पर संत कोलंबा कॉलेज के पूर्व अध्यापक स्वर्गवासी श्रीराम के बेटे आलोक रंजन ने अपने घर में पानी को इकठ्ठा करने की नयी व्यवस्था बनाकर की है.

यह भी पढ़े : पानी की किल्लत को देखते हुए आप इन तरीकों से अपने घर में पानी बचा सकते हैं. Public View की मुहिम से आप भी जुड़ें.

आलोक रंजन ने बताया कि वह जल संरक्षण के लिए छत और घर से निकलने वाले पानी को पाइप के माध्यम से पनसोखा में गिराते हैं. आलोक रंजन का कहना है कि जबसे वह पनसोखा में पानी इकठ्ठा करके रखते हैं तबसे उनके घर का कुआं सूखा नहीं है. वरना हर वर्ष 3 से 4 महीनों तक उनके घर का कुआं सूख जाता था. अब उनके घर के कुएं में सालों साल पानी भरा रहता है.

आलोक रंजन ने बताया कि वह बारिश के पानी को संरक्षित करके भूमि पर जलस्तर बढ़ाने में भी काम कर रहे हैं. आलोक रंजन वर्ष 2008 से जल संरक्षण कर रहे हैं. अलोक रंजन को पानी इकठ्ठा करते हुए देख इलाके के बाकि लोग भी जागरूक हुए हैं और वह सभी भी जल संरक्षण में अपनी अपनी भूमिका निभा रहे हैं.

Public View : ‘जल शक्ति अभियान’ में एक छोटी सी भागीदारी हमारी भी, अगर आपके पास जल संरक्षण से जुड़ा कोई आइडिया, या तस्वीर है तो हमसे शेयर करें. हम आपकी बातों को प्रकाशित करेंगे.

Leave A Reply

Your email address will not be published.