Ultimate magazine theme for WordPress.

झारखंड : विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने तैयार की टीम, संगठन पर फोकस

0

झारखंड :  राज्य में 2 महीने के बाद विधानसभा चुनाव होने वाले है, चुनाव को मद्देनजर कांग्रेस ने अपनी तैयारी तेज कर ली है. सबसे पहले कांग्रेस ने राज्य में प्रदेश अध्यक्ष की नियुक्ति की. इसके बाद पार्टी ने इलेक्शन स्क्रीनिंग कमेटी के गठन की भी घोषणा कर दी है. अब संगठन पर फोकस करने की बारी है.

 

प्रदेश अध्यक्ष बनें रामेश्वर उरांव

पार्टी ने राज्य के प्रदेश अध्यक्ष की कमांड रामेश्वर उरांव को सौंपी है. अब रामेश्वर उरांव राज्य में संगठन को सींचने का काम करेंगे. साथ ही सबको साथ लेकर चलना सबसे बड़ी चुनौती होगी.

 

स्क्रीनिंग कमेटी अध्यक्ष बनें टीएस सिंहदेव

इसके अलावा इलेक्शन स्क्रीनिंग कमेटी का गठन करते हुए पार्टी ने वर्तमान समय में छत्तीसगढ़ सरकार के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव को कमेटी का अध्यक्ष बनाया है. छत्तीसगढ़ में टीएस सिंह देव को संगठन को मजबूती के साथ खड़ा कर सूबे की सबसे बड़ी पार्टी बनाने का श्रेय जाता है. चुनावी रेस में जीतने वाले प्रत्याशी को निकालकर सामने लाना झारखंड जैसे राज्य के लिए एक चुनौतापूर्ण कार्य से कम नहीं है

 

इस साल के अंत में झारखंड में होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशियों के चयन के लिए टीएस सिंहदेव को 6 सदस्यों की स्क्रीनिंग कमेटी का अध्यक्ष बनाया गया है.

टी एस सिंहदेव के अलावा अन्य 5 सदस्य कमेटी में शामिल है.

कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव सलीम अहमद

झारखड कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी आरपीएन सिंह

नवनियुक्त झारखंड प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव

सांसद के. सुरेश

विधानसभा में विधायक दल के नेता आलमगीर आलम.

आने वाले विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी ने अब तैयारी शुरू की है. कांग्रेस के अंदर सबसे बड़ी समस्या है गुटबाजी. सीनियर और जुनियर लीडर के बीच संवाद हीनता की खाई बड़ी गहरी है. संगठन जर्जर-जर्जर हालत में है, ज्यादातर लोग बीजेपी और जेएमएम में जाने को तैयार बैठे है सिर्फ सिगनल मिलने का इंतजार है. अब सवाल यह है कि चुनाव से दो महीने पहले बनाई गयी इलेक्शन कमिटी चुनाव के दौरान अपनी निर्णायक भूमिका कैसे निभाएगी कांग्रेस.

भाजपा का राज्य में असर ज्यादा दिखाई पड़ रहा है. ऐसे में पार्टी ने चुनाव के लिए जो रणनीति अपनायी है और टीम का गठन किया है वो कितना कारगर साबित होगा. यह देखने लायक होगा कि कमिटी कहां तक पार्टी की उम्मीदों पर खरी उतरती है, क्यूंकि मौजूदा हालात तो कुछ और ही संकेत दे रहे है.

अब देश और दुनिया की ताज़ा खबरें पढ़िए www.publicview.in पर, साथ ही साथ आप Facebook, Twitter, Instagram और Whats App के माध्यम से भी हम से जुड़ सकते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.