Ultimate magazine theme for WordPress.

प्रतिवर्ष रेलवे को झारखंड देता है 25 हज़ार करोड़ राजस्व, सांसदों ने PM मोदी से कहा- रांची में हो रेलवे जोनल ऑफिस

0

झारखंड की राजधानी रांची में रेलवे जोनल ऑफिस बनें इसके लिए सांसदों ने PM नरेंद्र मोदी से मंगलवार को मुलाक़ात की. PM मोदी से मुलाक़ात के वक़्त सांसद संजय सेठ, सांसद अन्नपूर्णा देवी, दुमका सांसद सुनील सोरेन, जमशेदपुर के सांसद विद्युत वरण महतो मौजूद रहे.

सांसदों ने पत्र के जरिए PM मोदी से अनुरोध किया है कि रांची में रेलवे का जोनल ऑफिस खोला जाए. क्यूंकि झारखंड रेलवे को 25 हजार करोड़ से अधिक राजस्व प्रतिवर्ष देता है़.

अगर रांची में रेलवे जोनल ऑफिस होगा तो राज्य की जनता को लाभ मिलेगा़. विकास में तेजी आएगी और बेसिक संरचनाओं का निर्माण होगा़. वर्तमान समय में दक्षिण पूर्व रेलवे का जोनल ऑफिस कोलकाता में है़. इसे स्थानांतरित करते हुए पूर्व मध्य रेलवे जोन के अंतर्गत आने वाले धनबाद रेल मंडल को रांची से जोड़ते हुए इसका जोनल ऑफिस बनाया जा सकता है़.

सांसदों का कहना है कि झारखंड से सटे हुए राज्य छत्तीसगढ़ और ओड़िशा में जबसे जोनल ऑफिस स्थापित हुआ है तबसे इन राज्यों में बेहतर आधारभूत संरचना का निर्माण हुआ है़.

इसके अलावा सांसदों ने HEC की समस्याओं के समाधान पर भी PM बातचीत की. सांसदों ने कहा कि HEC देश का एक अकेला ऐसा संस्थान है जहां पर परमाणु व नुक्लिअर के उपकरणों का निर्माण किया जा रहा है.

कुछ दिनों पहले नीति आयोग द्वारा गठित उच्चस्तरीय समिति ने HEC के आधुनिकीकरण के लिए भारत सरकार के समक्ष एक रिपोर्ट रखी है.

HEC के योगदान को देखते हुए इसे परमाणु ऊर्जा विभाग में सकारात्मक दिशा- निर्देश दिया जाना चाहिए. HEC  हमेशा से ही देश के औद्योगिक विकास में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते आ रहा है़. HEC की दुनिया में अपनी एक अलग पहचान है. HEC ने चंद्रयान, रक्षा क्षेत्र के लिए उपकरण, गन बैरल, टी-72 टैंक के उपकरण और रेलवे के क्षेत्र में कई मशीनें बनायी हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.