Ultimate magazine theme for WordPress.

माँ दुर्गा को लेकर फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट शेयर करने के लिए JMM नेता गिरफ्तार

0

पुलिस ने गुरुवार रात झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के पश्चिम सिंहभूम जिला इकाई के अध्यक्ष भुवनेश्वर महतो को अपने फेसबुक पेज पर देवी दुर्गा को लेकर अश्लील और आपत्तिजनक पोस्ट शेयर करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया, जिसने पश्चिमी सिंहभूम जिले के चक्रधरपुर शहर में दुर्गा पूजा समितियों और हिंदू समुदाय के बीच व्यापक गुस्से को जन्म दिया.

चक्रधरपुर पुलिस थाना प्रभारी गोपीनाथ तिवारी ने बताया कि, भाजपा नेता संजय मिश्रा और दुर्गा पूजा समितियों के सदस्यों द्वारा प्राथमिकी दर्ज किए जाने के बाद हमने गुरुवार रात भुवनेश्वर महतो को गिरफ्तार किया, जो थाने पर विरोध कर रहे थे. शुक्रवार की सुबह, हमने आरोपी को जेल भेज दिया. उन पर अपने फेसबुक पेज पर एक अश्लील और आपत्तिजनक पोस्ट शेयर करने और हिंदू भावनाओं और उनके विश्वास को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया गया है. हम इस मामले की जांच कर रहे हैं और पोस्ट के मूल स्रोत का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं.

हालांकि बाद में महतो ने पोस्ट साझा करने के लिए अपनी पार्टी के व्हाट्सएप ग्रुप में माफी मांगी, लेकिन उनकी पार्टी ने उनसे उनका चार्ज छीन लिया और जांच का आदेश दिया. महतो ने व्हाट्सएप ग्रुप में अपने संदेश में कहा, “मुझे खेद है कि माँ दुर्गा पर एक आपत्तिजनक पोस्ट मेरे फेसबुक पेज पर साझा की गई है. मुझे पता नहीं है कि इसे कैसे साझा किया गया था, लेकिन मैं हैरान और शर्मिंदा हूं कि इसे साझा किया गया. मैं सभी से माफी मांगता हूं.”

JMM के महासचिव विनोद पांडे ने कहा, “पार्टी ने घटना का संज्ञान लिया है और भुवनेश्वर महतो को जिला अध्यक्ष पद से हटा दिया है. इस घटना की पारदर्शी जांच सुनिश्चित करने के लिए, पार्टी अध्यक्ष ने विधायक और पार्टी प्रवक्ता कुणाल सारंगी के नेतृत्व में दो सदस्यीय समिति का गठन किया है। समिति एक सप्ताह में जांच रिपोर्ट देगी.”

इस बीच, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और पश्चिम सिंहभूम के पूर्व सांसद लक्ष्मण गिलुआ ने मांग की है कि महतो को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए. “उन्होंने देवी दुर्गा पर अश्लील पोस्ट शेयर करते हुए अपनी टिप्पणी में गंदे शब्दों का इस्तेमाल किया है, जिनकी देश और दुनिया में अरबों हिन्दू पूजा करते हैं.

उन्होंने आगे कहा की, हम इसकी निंदा करते हैं और हमारी मांग है कि उसे कानून के अनुसार दंडित किया जाए. इसने लोगों की भावनाओं को आहत किया है और चक्रधरपुर में सांप्रदायिक सद्भाव और शांतिपूर्ण माहौल को बिगाड़ने की साजिश की है.

राज्य,देश और दुनिया की ताज़ा तरीन खबरें पढ़िए publicview.in पर, साथ ही साथ आप facebook, twitter,instagram और whatsapp के माध्यम से भी हम से जुड़ सकते हैं. पब्लिक का साथ ही Public व्यू की ताकत है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.