Ultimate magazine theme for WordPress.

मुंबई में बागी विधायकों से मिलने पहुंचे मंत्री डीके शिवकुमार, पुलिस ने होटल के अंदर जाने से रोका

0

कर्नाटक में चल रहा राजनितिक संकट दिन- प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है. कर्नाटक में अब तक कांग्रेस और JDS गठबंधन सरकार के 16 विधायक इस्तीफा दे चुके हैं. जिनमें से 8 विधायकों के इस्तीफे को स्पीकर ने मंगलवार को खारिज कर दिया.

कर्नाटक सरकार में मंत्री डीके शिवकुमार और JDS विधायक शिवलिंगे गौड़ा बुधवार को विशेष विमान से बेंगलुरु से मुंबई पहुंचे. दरअसल, मंत्री डीके शिवकुमार और JDS विधायक शिवलिंगे गौड़ा मुंबई के रेनेसां होटल में ठहरे कांग्रेस और JDS के 10 विधायकों को मनाने के लिए पहुंचे, लेकिन जब वह होटल पहुंचे तो पुलिस ने उन्हें होटल के अंदर नहीं जाने दिया.

मंत्री डीके शिवकुमार को पुलिस द्वारा होटल के बाहर रोके जाने पर शिवकुमार ने कहा कि, ‘‘वह अपना काम कर रहे हैं. हम अपने दोस्तों से मिलने आए हैं. हमने एक साथ राजनीति शुरू की और एक ही साथ राजनीति में मरेंगे. वे हमारी पार्टी के लोग हैं और हम उनसे मिलने आए हैं.’’

शिवकुमार का कहना है कि उनके कुछ दोस्त इस होटल में ठहरे हुए हैं. उनके बीच छोटी सी समस्या हो गई है.  मैं विधायकों से यहां बातचीत करने आया हूं. इसमें डराने या धमकाने वाली कोई बात नहीं है. हम एक दूसरे से प्यार करते हैं और उनका सम्मान करते हैं.

हीं दूसरी तरफ, JDS के नेता एन. गौड़ा के समर्थकों ने मुंबई के रेनेसां होटल के बाहर शिवकुमार “गो बैक” के नारे लगाए.

बागी विधायकों ने शिवकुमार के खिलाफ लिखा पत्र

बागी विधायकों ने शिवकुमार के खिलाफ पुलिस को पत्र लिखा, जिसमें पत्र के अनुसार उनका कहना हैं कि, ‘‘हमने सुना है कि CM कुमारस्वामी और डीके शिवकुमार होटल आने वाले हैं. इस कारण हम डरे हुए हैं. हम उनसे नहीं मिलना चाहते हैं. पुलिस से आग्रह है कि उन्हें होटल में न आने दिया जाए.’’

पुलिस को लिखे गए इस पत्र में 10 विधायकों ने अपने हस्ताक्षर किए हैं, जिसमें शिवराम हेबर, प्रताप गौड़ा पाटिल, बीसी पाटिल, एसटी सोमशेखर, रमेश जारकिहोली, बी बस्वराज, एच विश्वनाथ, गोपालैया, नारायण गौड़ा और महेश कुमुताली के नाम हैं

Leave A Reply

Your email address will not be published.