Ultimate magazine theme for WordPress.
Medha Milk

झारखंड में मानसून हुआ सक्रिय,बज्रपात से हुई 33 लोगों की मौत

0

झारखंड में मानसून ने एक बार इस फिर से दस्तक दी है. जिसके बाद तापमान में करीब 7 डिग्री तक गिरावट देखा गया. लेकिन मानसून के साथ साथ बज्रपात के कारण अब तक राज्य में 33 लोगों की मौत हो चुकी है.

3 जिलों बज्रपात से 10 लोगों की मौत

बुधवार को झारखंड में कहीं हलकी तथा कहीं तेज बारिश हुई. बारिश के साथ साथ राज्य के जिलों में बिजली गिरने से 23 लोगों की मौत हो गयी. इससे एक दिन पहले मंगलवार को भी बज्रपात होने की वजह से 3 जिलों में 10 लोगों की मौत हो गयी.

राज्य के इन जिलों में गयी बज्रपात से लोगों की जान

जामताड़ा, गढ़वा, रामगढ़, गुमला, लोहरदगा, कोडरमा, चतरा, बोकारो, चान्हो, गिरिडीह, दुमका, पाकुड़ जिलों में आकाशीय बिजली गिरने से अब तक 33 लोगों की जान जा चुकी है.

जिसमें से सबसे ज्यादा मौत अब तक जामताड़ा में हुई है. जबकि रामगढ़ में 2, चान्हो में 2, पाकुड़ में 2 दुमका में 2 और गिरिडीह में भी 2 लोगों की मौत हुई है.

इसके अलावा गढ़वा में 1, गुमला में 1, लोहरदगा में 1, कोडरमा में 1, चतरा में 1, बोकारो में 1 व्यक्ति की बज्रपात से मौत हो गयी.

मौसम विभाग ने दी जानकारी

भारतीय माैसम विभाग केंद्र रांची के अनुसार अगले तीन दिन तक पूरे झारखंड में बारिश हाेने के संभावना हैं. माैसम वैज्ञानिक आरएस शर्मा ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में लाे प्रेशर बना हुआ है.

जिसके कारण झारखंड के देवघर, दुमका, गाेड्डा, साहेबगंज, पलामू, गढ़वा, चतरा और काेडरमा में से कुछ जगहाें पर 26 जुलाई काे भारी बारिश हाे सकती है. इसी के साथ आकाशीय बिजली गिरने के भी आसार है.

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें पढ़िए www.publicview.in पर, साथ ही साथ आप Facebook, Twitter, Instagram और Whats App के माध्यम से भी हम से जुड़ सकते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.