Ultimate magazine theme for WordPress.
Medha Milk

झारखंड में सीसीएल व सिपेट के बीच हुआ एमओयू

प्रशिक्षण के बाद कैम्‍पस प्‍लेसमेंट के माध्‍यम से देश के विभिन्‍न कंपनियों में रोजगार उपलब्‍ध करवाया जायेगा।

0

रांची।  सेन्‍ट्रल इंस्‍चयूट ऑफ प्‍लास्टिक इंजीनियरिंग एंड टेकनॉलोजी (सिपेट), रांची में झारखंड के युवाओं के लिए सेन्‍ट्रल कोलफील्‍ड्स लिमिटेड (सीसीएल) एवं सिपेट के बीच सहमति ज्ञापन (एमओयू) हस्‍ताक्षरित हुये। सीसीएल की ओर से महाप्रबंधक (सीएसआर) एके सिंह एवं सीपेट, रांची के निदेशक ए.के. राव ने हस्ताक्षर किये। इस एमओयू के अंतर्गत सीसीएल के 320 पिरयोजना प्रभावित उम्‍मीदवरों को नि:शुल्‍क छ: माह के आवासीय प्रशिक्षण के लिए नामंकित किया गया है। प्रशिक्षण के बाद कैम्‍पस प्‍लेसमेंट के माध्‍यम से देश के विभिन्‍न कंपनियों में रोजगार उपलब्‍ध करवाया जायेगा।

240 उम्मीदवारों को प्रशिक्षण देने का लक्ष्य

पूर्व में कोल इंडिया लिमिटेड, कोलकाता द्वारा सिपेट से 2000 उम्मीदवारों को कौशल विकास प्रशिक्षण देने के लिए करार किया गया जिसमे सिपेट रांची को 240 उम्मीदवारों को प्रशिक्षण देने का लक्ष्य दिया गया। दिए गये 240 लक्ष्य में से 200 उम्मीदवारों का प्रशिक्षण सफलतापूर्वक समाप्त हुआ एवं 178 प्रशिक्षु को देश के विभिन्न राज्य में रोजगार प्रदान किया गया। शेष 40 प्रशिक्षनार्थियों का प्रशिक्षण अभी जारी है

झारखंड के युवाओं में अपार क्षमता -विनय रंजन

निदेशक (कार्मिक) विनय रंजन ने एमओयू पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुये कहा कि झारखंड के युवाओं में अपार क्षमता है आवश्‍यकता है तो सिर्फ उपयुक्‍त सुविधाओं और अवसर की जिसे सीसीएल अपने सीएसआर योजनाओं के माध्‍यम से प्रदान कर रहा है।

सिपेट रांची के निदेशक एवं प्रमुख ने प्रशिक्षण कार्यक्रम पर प्रकाश डालते हुए पूर्व में किये गये कौशल विकास प्रशिक्षण की जानकारी दी एवं वर्तमान में दिए गये लक्ष्य को प्राप्त करने का दृढ़ निश्चय किया।

कंपनी राज्‍य के विकास में अहम योगदान दे रहा है – एके सिंह

महाप्रबंधक (सीएसआर) एके सिंह ने कहा कि सीसीएल के सीएमडी पी.एम. प्रसाद के मार्गनिर्देंशन में कंपनी राज्‍य के विकास में अहम योगदान दे रहा है और कौशल विकास के विभिन्‍न प्रशिक्षण अपने कमांड क्षेत्रों में नियमित रूप से सीसीएल के सीएसआर योजना के अंतर्गत करवाया जा रहा है।

अवसर विशेष पर मुख्य प्रबंधक (सीएसआर), के.ए. सुन्‍दर, मुख्य प्रबंधक (सीएसआर),  एस.एस. लाल एवं वरिष्‍ट तकनीकी अधिकारी, सिपेट  बी. श्रीकर, अभिषेक कुमार बक्शी,  मिंटू कुमार एवं अन्‍य उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.