Ultimate magazine theme for WordPress.

कांवड़ यात्रियों की भीड़ को देखकर, 30 जुलाई बंद रहेंगे लखनऊ-अयोध्या हाईवे, स्कूल व कॉलेज

0

UP: सावन का महीना चल रहा है और कांवड़ियों की आवाजाही शुरू हो गयी है. कांवड़ियों की भीड़ को ध्यान में रखते हुए गाजियाबाद और मेरठ जिले के सभी स्कूल और कॉलेजों में 26 से 30 जुलाई तक अवकाश घोषित किया गया है.

जिलाधिकारी ने 30 जुलाई तक बंद किये स्कूल व कॉलेज

गाजियाबाद के जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि श्रावण शिवरात्रि 30 जुलाई को होगी. पिछले साल की तरह इस बार भी श्रद्धालुओं और कांवड़ियों के भारी संख्या में आने का अनुमान है.

इसलिए सभी स्कूल व इंजीनियरिंग, प्रबंधन और मेडिकल कॉलेज 26 से 30 जुलाई तक बंद रहेंगे. 31 जुलाई से फिर से स्कूल व कॉलेज में पहले की तरह पढाई शुरू हो जाएगी.

मेरठ में कांवड़ियों की भीड़ को देखते हुआ लिया फैसला

मेरठ के जिला प्रशासन ने भी बताया कि 30 जुलाई तक 12 वीं कक्षा तक के स्कूल व कॉलेज बंद रखने के आदेश पहले ही दिए जा चुके हैं. मेरठ में कांवड़ियों की भारी भीड़ को देखते हुए यह फैसला लिया गया है.

अयोध्या- लखनऊ हाईवे चार दिन तक बंद

इसके अलावा कांवड़ियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए अगले चार दिन तक लखनऊ-अयोध्या हाईवे बंद रहेगा. चार दिनों तक सुरक्षा पर खास नजर रखते हुए रामनगरी में यातायात पूरी तरह से बंद होगा.

अमेठी, सुल्तानपुर, अंबेडकरनगर, गोंडा, बहराइच व बलरामपुर के मार्गों पर ट्रैफिक डायवर्जन की व्यवस्था होगी. हाईवे पर लखनऊ होकर गोरखपुर जाने वाले रास्ते से कांवड़ियों के लिए रास्ता होगा.

30 जुलाई श्रावण शिवरात्रि

30 जुलाई श्रावण शिवरात्रि है, इस दिन सभी श्रद्धालु (कांवड़ियें) हरिद्वार जाकर शिवलिंग पर जल चढ़ाते हैं. इन्ही श्रद्धालुओं की भीड़ की सुरक्षा के लिए यह सरे प्रबंध किये गए हैं. यह संपूर्ण मेला क्षेत्र की CCTV कैमरों की निगरानी में होगा. पुलिसकर्मियों को भी सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं.

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें पढ़िए www.publicview.in पर, साथ ही साथ आप Facebook, Twitter, Instagram और Whats App के माध्यम से भी हम से जुड़ सकते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.