Ultimate magazine theme for WordPress.

कोल्ड ड्रिंक में नशीली दवा मिला कर BOSS ने पर्सनल सेक्रेटरी के साथ किया गंदा काम

0

झारखंड के जमशेदपुर के सीतारामडेरा के में एक सर्विस सेंटर में पर्सनल सेक्रेटरी के तौर काम करने वाली महिला ने अदालत में बयान देते हुए अपने मालिक पर कोल्ड ड्रिंक में नशीली दवा मिलाकर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है. पीड़िता ने अपने बयान में कहा कि उसका बॉस हर हफ्ते उसका यौन शोषण करता था. पीड़ित महिला का Boss हर तीन महीने में उसे गर्भपात की दवा देता था.

पीड़िता ने कहा कि सर्विस सेंटर के कर्मचारी महावीर को उसके रिश्ते के बारे में मालूम था. वह कहता था कि बॉस का कोई कुछ बिगाड़ नहीं सकता. बॉस उसे डॉक्टर के पास ले गया था. वहां उसके पति का नाम मुन्नू ठाकुर बताया गया था. बाद में जब डॉक्टर द्वारा पूछा गया कि सच बताओ गर्भवती करने वाला कौन है तो उसने संजय ठाकुर का नाम लिया.

उसके बाद डाक्टर ने संजय ठाकुर को बुलाया और कहा कि वह उसके करीबी हैं, इसीलिए बता रहे हैं कि जो दवा गर्भपात के लिए दी गई थी,दवा उसके शरीर में फैल गई है और इस बार दवा का असर नहीं हुआ है.

पीड़ित महिला ने अदालत को बताया कि वह एक सर्विस सेंटर में काम करती थी. अप्रैल महिला के एक रविवार को मालिक ने उसे अपने चैंबर में काम के लिए बुलाया. काम के दौरान ही उसे कोल्ड ड्रिंक दिया, जिसे पीने के बाद वह बेहोश हो गई. होश आने पर उसके कमर के नीचे दर्द महसूस हुआ. उस दिन पीड़िता को पता नहीं चला कि उसके साथ क्या हुआ है. दूसरे दिन बॉस ने उसे अपने लैपटॉप उसकी अश्लील वीडियो दिखाई.

पीड़िता के मुताबिक उसका बॉस उसे वीडियो के नाम पर ब्लैकमेल करने लगा. सर्विस सेंटर का मालिक पीड़ित महिला से कहता था कि ये वीडियो महिला के घरवालों को दिखा देगा और सोशल मीडिया पर वायरल कर देगा. जिसके बाद वो कहीं मुँह दिखाने के काबिल नहीं रहेगी. इसके पीड़ित महिला भी डर और उसका मालिक इसी तरह ब्लैकमेल कर के उसके साथ शारीरिक संबंध बनता रहा. एक बार जब वह गर्भवति हो गयी तो उसे दवा देकर उसका गर्भपात भी कराया.

इसके बाद मालिक ने पीड़िता को नौकरी से निकलने का फैसला लिया और साथ ही साथ मालिक ने अपनी पत्नी के सामने पीड़िता के चरित्र को दाग़दार कर दिया. पीड़ित महिला जब Boss के पत्नी के पास सारी बातें बताने के लिए पहुंची तो मालिक की पत्नी ने उसे भगा दिया. फिर पीड़िता पुलिस के पास पहुंची जहाँ उनका मेडिकल कराया गया और अदालत में बयान दर्ज़ कराया गया.

Leave A Reply

Your email address will not be published.