Ultimate magazine theme for WordPress.

प्रणब मुखर्जी को भारत रत्न से किया जाएगा सम्मानित, PM मोदी ने की प्रशंसा

0

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को गुरुवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा भारत के सर्वोच्च पुरस्कार, भारत रत्न से सम्मानित किया जाएगा.

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के साथ साथ भारतीय जनसंघ के नेता नानाजी देशमुख और गायक भूपेन हजारिका को भी देश के सर्वोच्च पुरस्कार भारत रत्न से सम्मानित किया जाएगा.

PM नरेंद्र मोदी ने तीनों प्रतिष्ठित व्यक्तित्वों के योगदान की सराहना करते हुए और तीनों को भारत रत्न मिलने के लिए ट्वीट कर बधाई दी.

प्रणब मुखर्जी की तारीफ में प्रधानमंत्री ने कहा कि मुख़र्जी वर्तमान समय के एक श्रेष्ठ राजनेता हैं. जिन्होंने दशकों तक देश की निस्वार्थ भाव से सेवा की है. मुख़र्जी की यह सेवा देश के विकास मार्ग पर एक मजबूत छाप छोड़ रहा है.

समाजसेवी नानाजी देशमुख को राष्ट्र में उनके योगदान के लिए भारत से सम्मानित किया गया.

PM ने कहा कि, नानाजी देशमुख दलितों के प्रति विनम्रता, करुणा और सेवा का गुणगान किया. इसलिए वह सबसे अच्छे अर्थों में भारत रत्न हैं.

भूपेन हजारिका, सबसे लोकप्रिय गायकों में से एक है, PM ने भूपेन हज़ारिका की प्रशंसा करते हुए कहा कि भारत की संगीत परंपराओं को भूपेन हजारिका ने विश्व स्तर पर लोकप्रिय बनाया.

उन्हें खुशी है कि भूपेन दा को भारत रत्न प्रदान किया गया है. इससे पहले भूपेन दा को पद्मश्री, पद्मभूषण, दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है.

2012 से 2017 तक भारत के राष्ट्रपति रहे प्रणब मुखर्जी

पश्चिम बंगाल में बीरभूम जिले के एक मिराती गांव में प्रणब मुख़र्जी का जन्म 11 दिसंबर,1935 को एक बंगाली परिवार में हुआ था. 83 वर्षीय प्रणब मुखर्जी ने 2012 से 2017 तक भारत के राष्ट्रपति के रूप में कार्य किया.

 

राहुल गांधी ने दी बधाई

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी प्रणब मुखर्जी को भारत रत्न से सम्मानित किए जाने पर बधाई. राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कांग्रेस पार्टी को इस बात पर बहुत गर्व है कि हमारे स्वयं के सार्वजनिक सेवा- निर्माण में भारी योगदान को पहचान लिया गया है.

अब देश और दुनिया की ताज़ा खबरें पढ़िए www.publicview.in पर, साथ ही साथ आप Facebook, Twitter, Instagram और Whats App के माध्यम से भी हम से जुड़ सकते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.