Ultimate magazine theme for WordPress.

राहुल गाँधी मुख्यमंत्रियों से मिलेंगे, इस्तीफे की पेशकश के बाद से पहली मुलाक़ात

0

सामूहिक इस्तीफे के दौर में, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सोमवार को कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से मुलाकात करेंगे, हालांकि जब से उन्होंने पार्टी प्रमुख के पद से इस्तीफा देने की पेशकश की उसके बाद ये पहली मुलाक़ात है.

अंदाज़ा लगाया जा रहा है कि,यह बैठक पार्टी में राहुल गांधी की भविष्य की भूमिका को लेकर जारी सस्पेंस और विभिन्न स्तरों पर कांग्रेस नेताओं द्वारा इस्तीफा देने के कारण सामने आई है.

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी सोमवार दोपहर गांधी के साथ बैठक में शामिल होंगे.

हालांकि बैठक के असल एजेंडे का अभी तक पता नहीं चला , लेकिन यह उम्मीद है कि हाल ही में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में कांग्रेस कि निराशाजनक प्रदर्शन पर मंथन किया जा सकता है, विशेषकर हिंदी हार्टलैंड राज्यों में जहां कांग्रेस ने दिसंबर महीने में तीन विधानसभा चुनाव जीते थे. साथ ही साथ आने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी पर भी चर्चा होने की आशंका जताई जा रही है.

25 मई को कांग्रेस कार्य समिति (CWC) की बैठक में, जहां राहुल गांधी ने इस्तीफे की पेशकश की थी, उन्होंने कहा था कि कमलनाथ और अशोक गहलोत ने अपने बेटों को पार्टी के ऊपर थोपा है.

हालांकि, उनके इस्तीफे की पेशकश को सर्वसम्मति से कांग्रेस कार्य समिति ने अस्वीकार कर दिया। अब तक, कई शीर्ष नेताओं ने राहुल गांधी से मुलाकात की है और उनसे पार्टी का नेतृत्व करने का आग्रह किया है.

49 वर्षीय पार्टी प्रमुख को अपने पद छोड़ने के फैसले पर पुनर्विचार करने के लिए पार्टी के वरिष्ठ सदस्यों
द्वारा मनाने के गंभीर प्रयास किए जाने के बावजूद, राहुल गाँधी अपने बात पर खूंटा गाड़े खड़े हैं.

आपको बता दें कि, हाल के आम चुनावों में कांग्रेस ने 52 सीटें हासिल की, जब कि 2014 पार्टी को 44 सीटें ही हासिल हुए थे.

Leave A Reply

Your email address will not be published.