Ultimate magazine theme for WordPress.

CBSE का क्षेत्रीय कार्यालय खोलने के सिलसिले में रांची MP HRD मंत्री से मिले

CBSE का क्षेत्रीय कार्यालय खुलने से इलाके में रोजगार की संभावना

0

Ranchi: रांची के सांसद संजय सेठ ने सोमवार को दिल्ली में मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ से मुलाकात की. मुलाक़ात में संजय सेठ ने झारखंड की राजधानी रांची में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) का क्षेत्रीय कार्यालय खोलने की मांग की.

सांसद सेठ ने कहा कि, बिहार-झारखंड विभाजन को 19 साल हो गए हैं. हर साल झारखंड से केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड में लगभग 50 हजार से अधिक विद्यार्थी 10वीं तथा 12वीं की परीक्षा देते हैं.

मौजूदा वक़्त में करीब 500 विद्यालय केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड नई दिल्ली से संबंधित है, जो अपने आप में एक उपलब्धि है. झारखंड में विकास होने के बावजूद भी अपना माध्यमिक शिक्षा बोर्ड का क्षेत्रीय कार्यालय नहीं है.

देश में अभी 10 जगहों पर हैं CBSE के क्षेत्रीय कार्यालय

जबकि अजमेर,गुवाहाटी, पंचकूला, दिल्ली, प्रयागराज, तिरुवंतपुरम, भुनेश्वर, चेन्नई, देहरादून और पटना जैसे जगहों को मिलकर देश में 10 क्षेत्रीय कार्यालय हैं.

यह हमारी विडंबना ही है कि इतना बड़ा शैक्षणिक केंद्र होने के बाद भी, झारखंड में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड का क्षेत्रीय कार्यालय अब तक नहीं खुल पाया है.

संजय सेठ ने कहा कि, राजधानी रांची में क्षेत्रीय कार्यालय खुलने से झारखंड के विद्यार्थी और झारखंड वासियों को इसका लाभ मिलेगा, खासकर यहां के अनुसूचित जाति,जनजाति के लोगों को शिक्षा का बेहतर अवसर प्राप्त होगा.

उन्होंने आगे कहा कि, क्षेत्रीय कार्यालय खुलने से राज्य में नए विद्यालय खुलेंगे शिक्षा के नए अवसर प्राप्त होंगे तथा यहां के लोगों के लिए रोजगार के मौके तैयार होंगे.

क्षेत्रीय कार्यालय खुलने से परीक्षा के परिणाम भी जल्दी घोषित हो सकेंगे और साथ ही साथ शिक्षा के क्षेत्र में झारखंड में विकास हो पायेगा. इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए चुकी रांची आज एक एजुकेशन का हब बन चुका है यहां के छात्रों को परेशानी ना हो इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए जल्द से जल्द रांची में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड का कार्यालय खोलने की दिशा में समुचित कार्रवाई करें

इस सिलसिले में मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल ने आश्वस्त किया कि जल्द ही इस मुद्दे पर विचार किया जायेगा और उचित निर्णय लिया जाएगा.

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें पढ़िए www.publicview.in पर, साथ ही साथ आप Facebook, Twitter, Instagram और Whats App के माध्यम से भी हम से जुड़ सकते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.