Ultimate magazine theme for WordPress.

राहुल गाँधी के बयान के बाद कांग्रेस के कई नेताओं ने दिया इस्तीफा, झारखंड में वेट एंड वॉच

0

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की करारी हार के बाद राहुल गाँधी अपने पद से इस्तीफा देने की जिद्द पर अड़े हुए हैं. अब राहुल गाँधी के साथ साथ कांग्रेस के अन्य नेताओं ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया हैं. कांग्रेस के कानून और RTI सेल के चेयरमैन विवेक तंखा ने अपना इस्तीफा दे दिया. जिसके कुछ घंटों बाद दिल्ली, मध्य प्रदेश, हरियाणा, तेलंगाना सहित कई अन्य राज्यों के कई पदाधिकारियों ने भी अपना-अपना इस्तीफा दे डाला.

लेकिन इन इस्तीफों को लेकर फिलहाल पार्टी की ओर से कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है. दिल्ली कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश लिलोठिया ने भी अपना इस्तीफा दे दिया हैं. लिलोठिया ने कहा कि, मैंने शुरू से ही राहुल गांधी के नेतृत्व में काम किया. मैं जानता हूं कि कांग्रेस पार्टी में उनकी क्या अहमियत है. मेरी और सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं की यह भावना है कि राहुल गाँधी कांग्रेस का नेतृत्व करते रहें.

वहीं, दूसरी तरफ RTI सेल के चेयरमैन विवेक तंखा ने गुरुवार को अपना इस्तीफा देने के बाद कहा कि सभी पदाधिकारियों को अपना पद छोड़ना चाहिए ताकि राहुल गाँधी फिर से नई टीम बना सकें और कांग्रेस को दोबारा पुनर्जीवित कर सके.

आने वाले दिनों में जिन राज्यों में चुनाव होने हैं उनमें से एक झारखंड है, झारखंड के प्रदेश अध्यक्ष के इस्तीफे की खबर आई थी लेकिन पता चला वो प्रदेश प्रभारी आरपीएन सिंह को बेजी गई थी. वहीं पार्टी के अंदर JPCC चीफ डा. अजय कुमार को लेकर कलह सरेआम है. रांची से लेकर दिल्ली तक छोटे-बड़े सभी नेताओं ने जमकर विरोध जता दी है. यहां तक की नेता कार्यकर्ता पार्टी छोड़ने की धमकी तक दे रहे है.

वहीं AICC मुख्यालय 24 अकबर रोड़ में लोगों को शांत कराया गया है. साथ ही भरोसा दिलाया गया है कि बदलाव जल्द दिखेगा.

ये भी पढ़ें: https://publicview.in/demand-for-removal-of-jharkhand-state-president-dr-ajay-kumar/

एक तरफ सवाल यह भी अभी तक बना हुआ है कि अगर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी अपना पद छोड़ते हैं तो उनकी जगह कौन लेगा. इस बार के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को केवल 52 सीटों पर जीत मिली है. इतनी बड़ी हार मिलने के बाद 25 जून को राहुल गाँधी ने अपने इस्तीफे की पेशी की थी. लेकिन कार्य समिति के सदस्यों ने उनकी पेशकश को खारिज करते हुए उन्हें बदलाव करने के लिए कहा था. गुरुवार को राहुल गांधी ने भी फिर से पार्टी के महासचिव केसी वेणुगोपाल से साफ कहा था कि वह अपना इस्तीफा वापस नहीं लेंगे. लेकिन पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं ने राहुल गाँधी से अनुरोध किया कि वह कांग्रेस का नेतृत्व करते रहें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.