Ultimate magazine theme for WordPress.

श्रावणी मेला को मिली अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान, पर्यटकों की संख्या हुई दोगुनी

0

देवघर : झारखंड में आने वाले पर्यटकों की संख्या पिछले चार वर्षों में दोगुनी हो गयी है. झारखंड के पर्यटन मंत्री अमर बाउरी ने बताया कि झारखंड में पर्यटकों की संख्या 3.54 करोड़ हो गई है. जिसमें कि 1.76 लाख विदेशी पर्यटक हैं. इसी के साथ देवघर में होने श्रावणी मेले को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिल गयी है.

132 पर्यटक स्थलों को किया जा रहा विकास

पर्यटन मंत्री अमर बाउरी ने बताया कि राज्य के 132 पर्यटक स्थलों को अंतरराष्ट्रीय, राष्ट्रीय, राज्य-स्तरीय और स्थानीय- स्तरीय श्रेणियों में बांटकर उसे विकसित किया जा रहा है.

जिसमें कि 8 पर्यटकों और सांस्कृतिक खेल उत्सवों को शामिल किया जा रहा है, इसके अलावा राज्य के त्यौहारों का आयोजन किया जा रहा है.

झारखंड में 8 त्यौहार प्रसिद्ध

झारखंड में 8 त्यौहार प्रसिद्ध हैं जिन्हें बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है, जैसे कि इटखोरी महोत्सव, छाउ महोत्सव, बैद्यनाथ धाम महोत्सव, लुगुबुरु महोत्सव, माघी मेला, हिजला मेला, मुदमा मेला और बासुकीनाथम महोत्सव.

टूरिज्म सर्किट के विकास के लिए 52.72 करोड़ रूपए खर्च

पर्यटन मंत्री अमर बाउरी ने कहा कि केंद्र सरकार की “स्वदेश दर्शन योजना” के तहत राज्य में टूरिज्म सर्किट के विकास के लिए 52.72 करोड़ रूपए खर्च किए जाएंगे.

देवघर में होने वाले श्रावणी मेला को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता मिल गई है. जिसके बाद से झारखंड में पर्यटनों की संख्या में आगे और भी ज्यादा वृद्धि होने की संभावना है.

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें पढ़िए www.publicview.in पर, साथ ही साथ आप Facebook, Twitter, Instagram और Whats App के माध्यम से भी हम से जुड़ सकते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.