Ultimate magazine theme for WordPress.

सोनिया गांधी ने नए अध्यक्ष पद के चुनाव में हस्तक्षेप करने से किया इंकार, कहा – कठपुतली नहीं बनना चाहती

0

राहुल गांधी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद अब कांग्रेस में नए अध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस के कई कार्यकर्ताओं का चयन किया जा रहा है ताकि कांग्रेस को उनका नया अध्यक्ष मिल जाए.

लेकिन संसदीय दल की नेता सोनिया गांधी ने नए अध्यक्ष के चुनाव में किसी भी तरीके की सलाह या हस्तक्षेप करने से इंकार कर दिया है. गांधी परिवार यह बिल्कुल नहीं चाहता है कि पार्टी जिसे कांग्रेस का अगला अध्यक्ष बनाए उस पर गांधी परिवार के करीबी होने या कठपुतली होने का आरोप लगे.

सोनिया गांधी ने CWC में सबकी सलाह से फैसला लेने की बात कही. जानकारी के मुताबिक गांधी परिवार CWC की बैठक से भी दूरी बनाना चाहता है ताकि सदस्यों को कोई भी फैसला लेने में आसानी हो.

CWC में किसी वरिष्ठ महासचिव को अस्थाई तौर पर अध्यक्ष बनाकर चुनाव प्रक्रिया शुरू की जाए. वरिष्ठ महासचिव के नाम पर गुरुवार को गुलाम नबी आजाद का नाम सामने आया.

कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना है कि डा. मनमोहन सिंह बड़ा चेहरा हैं उनके साथ सर्वसहमति बनाना होगा. डा. मनमोहन सिंह के नेतृत्व में अनुभवी और युवा नेताओं की टीम एक साथ अच्छे से काम कर सकती है.

इसके अलावा कुछ नेता महासचिव प्रियंका गांधी को अध्यक्ष पद पर देखना चाहते हैं लेकिन राहुल के पद छोडने के बाद जिस तरह प्रियंका गांधी ने राहुल गांधी के सपोर्ट में ट्वीट किया है उससे इसकी संभावना दिखाई नहीं देती.

Leave A Reply

Your email address will not be published.