Ultimate magazine theme for WordPress.

उत्तर प्रदेश में टीचर अटेंडेंस दर्ज करने के लिए लेते हैं सेल्फी

0

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले के सभी सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को उनकी अटेंडेंस बनाने के लिए उनकी कक्षाओं के सामने अपनी सेल्फी लेकर भेजने के लिए कहा गया है.

जिला शिक्षा अधिकारियों ने शिक्षकों के अटेंडेंस के लिए बेसिक शिक्षा अभियान (बीएसए) वेबपेज पर तस्वीरें सुबह 08:00 बजे तक पोस्ट करने को कहा है. शिक्षक निर्धारित समय तक अपनी सेल्फी अपलोड नहीं करेंगे, वो एक दिन का वेतन खो देंगे.

गर्मियों की छुट्टियों के लिए स्कूलों को बंद करने से पहले मई में इस प्रणाली को लागू किया गया था, और 700 से अधिक शिक्षकों ने अब तक एक दिन का वेतन खो दिया है.

शिक्षा विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि यह प्रणाली स्कुलों से गायब रहने वाले शिक्षकों के रैकेट को नष्ट करने में मदद करेगी. यह उत्तर प्रदेश में एक प्रथा रही है, जिसके तहत शिक्षक अपने जगह कम योग्यता वाले लोगों को नौकरी के लिए रख लेते हैं, जो न केवल उनकी उपस्थिति को चिह्नित करते हैं, बल्कि छात्रों को पढ़ाते भी हैं. यह प्रिंसिपल के साथ मिलकर किया जाता है, जिन्हें पैसे भी दिए जाते हैं.

एक अधिकारी ने कहा, “अगर सिस्टम काम करता है, तो हम इसे अन्य जिलों में भी लागू कर सकते हैं. मुख्यमंत्री ने दृढ़ता से कहा है कि शिक्षा प्रणाली में सुधार होना चाहिए और छात्रों की तुलना में हमें शिक्षण मानकों में सुधार करना चाहिए.”

इसके अलावा, स्कूल के समय में सोशल मीडिया साइटों पर सर्फिंग करते हुए पाए गए शिक्षकों के भीं वेतन में कटौती होगी.

बेसिक शिक्षा अभियान वी.पी. सिंह ने कहा: “मुख्यमंत्री और बेसिक शिक्षा मंत्री के निर्देश पर सेल्फी लेने और सत्यापित करने की पूरी प्रक्रिया को सख्ती से लागू किया जा रहा है. शिक्षकों को विशेष रूप से कहा गया है कि यदि वे सुबह 8 बजे तक अपनी सेल्फी पोस्ट नहीं करते हैं, तो वे अपने दिन का वेतन खो देंगे. ”

शिक्षक, हालांकि, नए नियम को ‘अनुचित’ मान रहे हैं.

” ट्रैफिक जाम होता है, ग्रामीण इलाकों में सार्वजनिक परिवहन की अनुपलब्धता और खराब इंटरनेट कनेक्टिविटी जो सेल्फी पोस्ट करने में देरी का कारण बन सकती है. मैंने एक दिन का वेतन खो दिया है क्योंकि मेरा टेम्पो रेलवे क्रॉसिंग पर जाम में फंस गया, बाराबंकी जिले के राम नगर में प्राथमिक विद्यालय कि एक महिला शिक्षक ने कहा.

Leave A Reply

Your email address will not be published.