Ultimate magazine theme for WordPress.

Jharkhand B.Ed: मेरिट लिस्ट में गड़बड़ी की शिकायत के बाद जारी होगी नई चयन सूची

0

सोमवार को रांची विश्वविद्यालय की ओर से जारी की गई चयन सूची में गड़बड़ी की शिकायत मिलने के बाद झारखंड के बीएड कॉलेजों में अकादमिक सत्र 2019-20 के लिए दाखिले पर रोक लगा दी गई है.

रांची यूनिवर्सिटी प्रशासन ने मंगलवार को झारखंड के सभी बीएड कॉलेजों को पत्र जारी कर कहा गया कि पुराणी चयन सूची के आधार पर कोई नामांकन नहीं लिया जाये.

अब नए सिरे से सूची जारी की जाएगी, जो मेरिट के आधार पर होगी. रांची यूनिवर्सिटी के वेबसाइट से भी लिस्ट को हटा लिया गया है.

रांची यूनिवर्सिटी की ओर से जो मेरिट लिस्ट जारी की गई थी, उसमे काफी गड़बड़ियां मिली. जिन विद्यार्थियों का रैंक 9000 से 10000 था, उनका नाम लिस्ट में था और जिनका रैंक 245, 510,1843 था, उनका नाम लिस्ट में शामिल नहीं था.

बता दें कि, 131 बीएड कॉलेज चलते हैं पूरे झारखंड में और 13 हजार सीटों पर कॉलजों में होना है नामांकन

दरअसल, बात कुछ ऐसी थी कि रांची यूनिवर्सिटी की तरफ से जो लिस्ट जारी की गई थी, वह मेरिट के आधार पर नहीं बल्कि च्वाइस के आधार पर थी. विद्यार्थियों को काउंसिलिंग में तीन कॉलेजों का विकल्प देना था, जबकि रांची यूनिवर्सिटी ने पहले विकल्प के आधार पर ही चयन सूची जारी कर दी. जिसके कारण बड़ी संख्या में ऊंची रैंक वाले विद्यार्थी नामांकन से दूर हो गए.

अब ज़ाहिर सी बात है ऐसी परिस्थिति में विद्यार्थियों को गुस्सा तो आना था, इस मसले पर विभिन्न जिलों से आए विद्यार्थियों ने मंगलवार को कुलपति डॉ रमेश कुमार पांडेय का घेराव किया. विद्यार्थियों की नाराजगी इस बात को लेकर थी कि आखिर किस आधार पर ऊंचे रैंक वालों को नामांकन से दूर रखा गया.

इस मामले में यूनिवर्सिटी के कुलपति ने कॉलेज और वेबसाइट पर पत्र जारी किया गया है, पत्र में कहा गया है कि सॉफ्टवेयर में तकनीकी खराबी के कारण चयन सूची रद्द करने की बात कही गई है. कुलपति ने विद्यार्थियों को कहा है कि, चयन सूची फिर से जारी की जाएगी.

Leave A Reply

Your email address will not be published.