Ultimate magazine theme for WordPress.

गूगल ने अपने अंदाज़ में मनाया देश की पहली महिला विधायक की 133वीं जयंती

0

गूगल डूडल बनाकर भारत की पहली महिला विधायक की जयंती को सेलिब्रेट कर कर रहा है. आइये आपको बताते है इनके बारे में कि कौन है यह महान शख्सियत. भारत की पहली महिला विधायक मुथुलक्ष्मी रेड्डी की आज 133वीं जयंती है. मुथुलक्ष्मी रेड्डी का जन्म 30 जुलाई 1883 को साउथ स्टेट तमिलनाडु में हुआ था.

महाराजा कॉलेज में एडमिशन लेने वाली पहली महिला

यह देश की पहली महिला विधायक होने के साथ साथ एक शिक्षक, समाज सुधारक, सर्जन थी. मुथुलक्ष्मी रेड्डी ऐसी पहली स्टूडेंट थीं, जिन्होंने महाराजा कॉलेज और मद्रास कॉलेज जैसे इंस्टिट्यूट में दाखिला लिया था.

तमिलनाडु सरकार ने सोमवार को घोषणा की थी कि वह हर साल 30 जुलाई को ‘हॉस्पिटल डे’ के तौर पर मनाएगी.

लड़कियों का जीवन सुधारने के लिए किये कार्य

मुथुलक्ष्मी रेड्डी ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम करने के साथ- साथ लिंगानुपात को बराबर करने के लिए और लड़कियों का जीवन को सुधारने के लिए काफी काम किया था.

पढाई को दी प्राथमिकता

मुथुलक्ष्मी रेड्डी के माता- पिता छोटी उम्र में ही उनकी शादी कर देना चाहते थे, लेकिन उन्होंने इसका इसका विरोध किया और अपनी पढ़ाई को प्राथमिकता दी. जिसके बाद उन्होंने मद्रास मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लिया और अपने पढाई पूरी की.

कॉलेज में दाखिला लेने के बाद मुथुलक्ष्मी रेड्डी की दोस्ती एनी बेसेंट और सरोजिनी नायुडू से हुई.

जानकारी है कि डॉ. रेड्डी की बहन की मृत्यु कैंसर की वजह से हो गई थी, जिसके बाद डॉ. रेड्डी ने उन्होंने चेन्नई में वर्ष 1954 में एक कैंसर अस्पताल की शुरुआत की.

आज के समय में यह अस्पताल दुनिया के सबसे बड़े कैंसर अस्पतालों में से एक है, जहां हर साल हज़ारों कैंसर मरीजों का इलाज चलता है.

मेडिकल छोड़कर राजनीति में हुई शामिल

कुछ सालों बाद डॉ. मुथुलक्ष्मी रेड्डी ने मेडिकल करियर को छोड़ राजनीति को अपनाया और मद्रास विधानसभा की पहली महिला सदस्य बनने के बाद उन्होंने सबसे पहले कम आयु में लड़कियों की शादी रोकने के लिए नियम बनाए.

1956 में पद्मभूषण पुरस्कार से सम्मानित

अपने महान योगदान के चलते मुथुलक्ष्मी रेड्डी को 1956 में पद्मभूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया. 22 जुलाई 1968 को चेन्नई में उनका निधन हो गया था.

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें पढ़िए www.publicview.in पर, साथ ही साथ आप Facebook, Twitter, Instagram और Whats App के माध्यम से भी हम से जुड़ सकते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.