Ultimate magazine theme for WordPress.

ट्रैफिक पुलिसकर्मी की मनमानी, कार चालक की हुई मौत, और कब तक “ट्रैफिक टार्चर” ?

0

नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने से एक तरफ तो लग रहा था कि लोग सुरक्षा का ध्यान रखना शुरू कर देंगे. जिससे हादसों की संख्या कम हो सकेगी, लेकिन क्या यह कहना सही है कि जहां एक तरफ आम जनता अपनी लापरवाही के चलते ट्रैफिक नियम तोड़ देती है, वहीं दूसरी ओर ट्रैफिक पुलिसकर्मी भी अपनी मनमानी कर रहे हैं.

 

ट्रैफिक पुलिसकर्मी के सख्त रवैये के कारण एक शख्श की हार्ट अटैक से मौत हो गयी. दोपहिया और चारपहिया दोनों वाहनों की जांच करना पुलिसकर्मी का काम है और ट्रैफिक पुलिसकर्मी अपने कार्य को बखूबी निभाते भी है, लेकिन कार पर डंडा मारना या अभद्रता रूप ले लेना कहां तक सही है.

 

ट्रैफिक पुलिसकर्मी कार चालक की कार पर मारे डंडे

 

आरोप है कि कार चालक गौरव अपने माता-पिता के साथ सेक्टर-62 से लौट रहे थे. नोएडा की तरफ मुड़ते ही रास्ते में कुछ पुलिसकर्मी खड़े थे, जिन्होंने चलती गाड़ी पर जोर से डंडा मारा और गाड़ी को रुकवाया.

 

गौरव और उसके पिता ने पुलिसकर्मियों के इस व्यवहार का विरोध किया. इस बात पर नोकझोंक इतनी बढ़ गई कि वहां मौजूद पुलिसकर्मी अभद्रता पर उतर आए.

 

नोकझोंक के वक़्त गौरव अचानक से सड़क पर गिर गए. यह देखकर ट्रैफिक पुलिसकर्मी गौरव की मदद करने के बजाय मौके से फरार हो गया.

 

जिसके बाद आसपास के लोग मदद के लिए पहुंचे और गौरव को पहले फोर्टिस और फिर कैलाश अस्पताल पहुंचाया गया. जहां डॉक्टरों ने जानकारी दी कि गौरव की हार्ट अटैक से मौत हो गयी.

 

गौरव की मौत के बाद उनके पिता का कहना है कि छह साल की मासूम बेटी ताशी के सिर से पिता का साया उठ गया है.

 

हेलमेट न पहनने पर कटे सबसे ज्यादा चालान

 

नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद अब तक सबसे ज्यादा चालान हेलमेट नहीं पहनने पर काटे गए हैं. इसके अलावा गलत तरीके से यू- टर्न लेना, तेज गाड़ी चलाना इन पर चालान अधिक काटे जाने की जानकारी सामने आयी है.

 

अब देश और दुनिया की ताज़ा खबरें पढ़िए www.publicview.in पर, साथ ही साथ आप Facebook, Twitter, Instagram और Whats App के माध्यम से भी हम से जुड़ सकते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.