Ultimate magazine theme for WordPress.
Medha Milk

कांके में चक्का जाम बेअसर, सरना कोड की मांग को लेकर सड़क पर उतरे आदिवासी संगठन

Tribal organizations came on the road to demand the Sarna Code

0

रांची। सरना कोड की मांग को लेकर केन्द्रीय सरना समिति के लोगों ने कांके के बोडेया चौक सुबह 8 बजे से 10 बजे तक चक्का जाम किया गया। इसका नेतृत्व रांची जिला सरना समिति अध्यक्ष अमर तिर्की की कर रहे थे। । बोडेया चौक के अलावा कांके चौकए पिठोरिया चौकए चंदवे चौक में आवागमन सामान्य रही। अमर उरांव ने कहा सरना कोड आदिवासियों की पुरानी मांग है। आदिवासी समाज अपनी अलग पहचान के लिए संघर्ष करता रहा है। आदिवासियों की पहचान सरना कोड है। सरना कोड पारित कर झारखंड सरकार को केंद्र भेजना चाहिए। आदिवासियों का अपना धर्म कोड नहीं होने के कारण जब जनगणना होती है तो उनकी गिनती ईसाई, हिंदू या अन्य में की जाती है। उन्होंने कहा कि आदिवासियों की धार्मिक, सामाजिक जमीन पर ही हमारा अस्तित्व जुड़ा है। चक्का जाम में अमित टोप्पो, अजीत लाकड़ा, मनीष मिंज, झारी उराँव, अशोक टोप्पो, रोशन टोप्पो, नवल टोप्पो, राजन उरांव, रतन टोप्पो सहित दर्जनों युवक शामिल थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.