Ultimate magazine theme for WordPress.

UP के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों के मोबाइल फ़ोन पर लगाई रोक

0

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरकारी समीक्षा बैठक और कैबिनेट बैठक के समय अफसरों को मोबाइल फोन साथ ले जाने पर रोक लगा दी है.

बुधवार को लखनऊ में हुई कानून-व्यवस्था की समीक्षा बैठक में किसी भी मंत्री को मोबाइल फोन अपने साथ नहीं ले जाने दिया गया.

सभी अधिकारियों के मोबाइल फोन बाहर मीटिंग रूम में ही रखवा लिए गए.

लखनऊ में हुई इस कैबिनेट बैठक से पहले भी एक मीटिंग के दौरान इसी तरह सभी मंत्रियों के मोबाइल फोन बाहर ही जमा करा लिए गए थे.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछले सप्ताह ही ऑफिशल और कैबिनेट मीटिंग के दौरान मोबाइल फ़ोन को बैन करने की जानकारी दी थी.

CM योगी के एक सीनियर अधिकारी ने बताया की “मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चाहते हैं कि सभी मंत्री व अधिकारी मीटिंग के समय केवल मुद्दों पर ध्यान दें. मोबाइल फोन के कारण अधिकारियों
का ध्यान भटकता हैं. जिसकी वजह से कुछ मंत्री व अफसर व्हाट्सऐप पर मैसेज पढ़ने में व्यस्त रहते हैं.

बैठक में मोबाइल न ले जाने की यह है वजह

मोबाइल हैकिंग और मोबाइल के जरिए जासूसी जैसे खतरे को ध्यान में रखते हुए योगी सरकार ने यह फैसला लिया है.

पहले मंत्रियों को मीटिंग में मोबाइल फोन ले जाने की अनुमति थी, लेकिन फोन को साइलेंट मोड पर रखना होता था.

अब, सभी अफसरों को अपने मोबाइल फोन मीटिंग रूम के बाहर एक काउंटर पर जमा करने का आदेश दिया गया है.

काउंटर पर मोबाइल जमा करने के बाद उन्हें एक टोकन जारी किया जाता है, मीटिंग खत्म होने के बाद टोकन के बदले में अफसरों का मोबाइल फोन वापस कर दिया जाता है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.