Ultimate magazine theme for WordPress.

World Brain Tumor Day पर जानें क्या हैं इसके लक्षण और क्या है इसका इलाज ?

0

दुनिया में हर साल 8 जून को World Brain Tumor Day रूप में मनाया जाता है. वर्ल्‍ड ब्रेन ट्यूमर डे का मकसद लोगों में जागरूकता फैलाना और सभी वर्गों के लोगों को इसके बारे में शिक्षित करना है. ब्रेन ट्यूमर मस्तिष्क की कोशिकाओं में होता है. असामान्य रूप से कोशिकाओं के बढ़ने पर जो गांठ बन जाती है, उसे ही ब्रेन ट्यूमर कहते है. कई बार कोशिकाओं का गुच्छा बन जाता है और ये कैंसर में तब्दील हो जाता है.

क्या है ब्रेन ट्यूमर ?

ब्रेन ट्यूमर काफी खतरनाक बीमारी है. आम तौर पर मस्तिष्क में गांठ पड़ जाने को ब्रेन ट्यूमर कहते हैं लेकिन लोग इसे लोग कैंसर का नाम दे देते हैं. लेकिन ये हर जगह कहना सही नहीं होता है कि ब्रेन ट्यूमर सिर्फ मस्तिष्क को ही प्रभावित नहीं करती, बल्कि ये पूरे शरीर को प्रभावित करता है क्यों की पूरे शरीर का संचालन मस्तिष्क से है होता है आमतौर पर लोग सारे ट्यूमर को एक जैसा मानते हैं लेकिन ये एक जैसा नहीं होता ब्रेन ट्यूमर कई प्रकार के होते है 20 से 40 साल के लोगों को ज्यादातर कैंसर रहित और 50 साल से अधिक उम्र के लोगों को ज्यादातर कैंसर वाले ट्यूमर होने की संभावना होती है।

मस्तिष्क की कोशिकाओं में असामान्य वृद्धि के कारण ब्रेन ट्यूमर होता है सभी ब्रेन ट्यूमर का लक्षण एक जैसा नहीं होता है अधिकतः ब्रेन ट्यूमर में लोगों को सिरदर्द, उल्टी आना, जी मचलना, दृष्टि संबंधी समस्याएं या चलने में समस्या, बोलते समय समस्या होना लगता है ब्रेन ट्यूमर का इलाज सर्जरी के माध्यम से किया जा सकता है अगर ब्रेन ट्यूमर अपनी अंतिम पड़ाव पर न हो तो इसे माइक्रो सर्जरी, इमेज गाइडेड सर्जरी, एंडोस्कोपिक सर्जरी,इंट्रा ऑपरेटिव मॉनिटरिंग के माध्यम से भी से छुटकारा पाया जा सकता है

Leave A Reply

Your email address will not be published.