Ultimate magazine theme for WordPress.

योगी सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर वैट बढ़ाया, अपना काम बनता भाड़ में जाए जनता

0

उत्तर प्रदेश सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर सोमवार आधी रात से मूल्य संवर्धित कर (वैट) बढ़ाने का फैसला किया है, जिससे इनकी कीमत में क्रमश: ढाई रुपये और एक रुपये का इजाफा हो जाएगा.

एक आधिकारिक आदेश के मुताबिक पेट्रोल पर वैट में 26.8 फीसद या 16.74रुपये प्रतिलीटर (जो भी ज्यादा हो) की बढ़ोतरी की गई है जबकि डीजल के दाम में 17.48 फीसद या नौ रुपये 41 पैसे (जो भी ज्यादा हो) का इजाफा किया गया है.

यानी, अभी तक पेट्रोल पर 14.70 रुपये/लीटर और डीजल पर 7.68/प्रति लीटर की दर से वैट लगता था. लेकिन अब कीमतें तय करने के लिए नया फॉर्म्यूला बनाया गया है. वाणिज्य कर विभाग के मुताबिक, इसके तहत पेट्रोल पर 26.80 प्रतिशत वैट या फिर 16.74 रुपये/लीटर जो भी अधिक होगा वह लागू होगा. वहीं, डीजल पर 17.48 प्रतिशत वैट या 9.41 रुपये/लीटर जो भी अधिक होगा वह वसूला जाएगा.

यह आदेश सोमवार आधीरात से प्रभावी है.

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि लखनऊ में अब पेट्रोल 73.65 रुपये प्रति लीटर और डीजल 65.34 रुपये प्रतिलीटर मिलेगा.

वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों ने कहा कि इससे सरकार को हर साल 3000 करोड़ रुपये की अतिरिक्त आय होगी.

पेट्रोल व डीजल के दाम बढ़ने से जनता को चौंकना नहीं चाहिए क्यूंकि, हम अक्सर देकते आये है कि चुनाव के वक़्त पर सरकारें पेट्रोल व डीजल के दाम बढ़ा देती है.

राज्य सरकार ने अक्टूबर 2018 में क्रूड ऑयल की कीमत बढ़ने पर केंद्र की तर्ज पर पेट्रोल और डीजल पर 2.50 रुपये/लीटर वैट कम किया था.

वाणिज्य कर विभाग ने तर्क दिया था कि पेट्रोलियम पदार्थों पर वैट की दर कम होने से वाणिज्य कर विभाग को घाटा हो रहा है. इसलिए वैट की दरें पुन: बढ़ा दी जाएं.

वाणिज्य कर विभाग के तर्क से एक सवाल उठता है कि, जब सरकार ने वैट में कटौती की थी तब वह उस स्थिति में थी ही नहीं कि वो पेट्रोल व डीजल के दाम घटा दे. और जब घटाया तो सरकार का सफाई आ गयी कि वैट घटने के कारण नुकसान हो रहा है.

इसका मतलब है उस वक़्त आने वाले चुनाव को देखते हुए सरकार ने ईंधन के दाम घटा दिए और अब नुकसान का हवाला दे कर दरें फिर से बढ़ाई जा रही हैं.

वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों ने कहा कि इससे सरकार को हर साल 3000 करोड़ रुपये की अतिरिक्त आय होगी.

अब देश और दुनिया की ताज़ा खबरें पढ़िए www.publicview.in पर, साथ ही साथ आप Facebook, Twitter, Instagram और Whats App के माध्यम से भी हम से जुड़ सकते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.